अधिकारियों को धमका रहे कमलनाथ, उनके बयानों में दिख रही है हताशा : शिवराज


पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष  कमलनाथ लगातार भाजपा और प्रशासनिक अधिकारियों पर सवाल उठाते रहे हैं। मतदान के दिन मुरैना जिले में हुई हिंसा के बाद कांग्रेस ने वहां पुनर्मतदान करने की मांग की है


देश गांव
राजनीति Updated On :
Photo Courtesy: Indian Express


भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेसी नेताओं के बयानों को उनकी हताशा बताया है। चौहान ने कहा कि कांग्रेसियों के बयान दरअसल उन्हें सामने नजर आ रही हार का नतीजा हैं लेकिन इसमें भी अधिकारियों को धमकी देना गलत है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुरैना में शनिवार को जो विरोध प्रदर्शन हुआ और जिस तरह से अधिकारियों को धमकाया जा रहा है वह सही नहीं है। उन्होंने भी साल 2018 में परायज स्वीकार की थी लेकिन यह तरीका जो कांग्रेस अपना रही है वह ठीक नहीं है।

इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष  कमलनाथ लगातार भाजपा और प्रशासनिक अधिकारियों पर सवाल उठाते रहे हैं। मतदान के दिन मुरैना जिले में हुई हिंसा के बाद कांग्रेस ने वहां पुनर्मतदान करने की मांग की है और इसे लेकर कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा है।

इसके अलावा भी प्रदेश में हो रहे घटनाक्रम बदलती राजनीति की ओर इशारा कर रहे हैं। दस नवंबर को जहां चुनावों के नतीजे आने हैं लेकिन इससे पहले ही रविवार को कांग्रेस के नजदीकी कंप्यूटर बाबा के ठिकानों पर बड़ी कार्रवाई कर दी गई तो वहीं विधायक पटवारी के भाईयों पर अवैध खनन के मामले में पांच करोड़ का जुर्माना लगा दिया गया है।



Related