MP: कोरोना वॉरियर्स पर बरसी पुलिस की लाठियां, नौकरी से बाहर किये जाने के खिलाफ कर रहे थे प्रदर्शन


कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को टैग करते हुए  ट्वीट कर लिखा है -“जिन कोरोना योद्धाओं के सम्मान में प्रधानमंत्री मोदी ने कभी आसमान से फूल बरसाने के आयोजन किए, उन पर अब लाठियां बरस ही हैं। जिन कोरोना व़ॉरियर्स के सम्मान में दिए जलाने, ताली और थाली बजाने के कार्यक्रम किए गए, उन्हें अब नौकरी से निकाला जा रहा है। कोरोना से जंग लड़ने के लिए जान जोखिम में डालने वाले योद्धाओं के साथ ऐसा बर्ताव हो रहा है बीजेपी के उस राज में जिसकी कमान मुख्यमंत्री शिवराज के हाथ में है।”


देश गांव
सबकी बात Updated On :

राजधानी भोपाल के नीलम पार्क में गुरुवार को कोरोना योद्धाओं पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। उनका गुनाह सिर्फ इतना था कि वे नौकरी से निकाले जाने के बाद शिवराज सरकार के खिलाफ शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे। पुलिस के इस लाठीचार्ज में कम से कम 15 कोरोना वॉरियर्स के घायल होने की खबर है। प्रदर्शन में नौकरी से निकाले गए करीब करीब पांच सौ कर्मचारी शामिल थे।

वहीं, रजत सकलेचा, एएसपी, भोपाल का कहना है कि, नीलम पार्क में कोविड-19 स्वास्थ्य संगठन नामक एक संस्था के स्वास्थ्यकर्मी नियमितीकरण की मांग कर रहे थे। इन्हें कोविड के दौरान सरकार द्वारा नियुक्त किया गया था। ये लोग लगातार प्रदर्शन कर रहे थे जिसकी इजाज़त नहीं दी गई थी। 47 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

दरअसल कोरोना के दौरान राज्य सरकार द्वारा कॉन्ट्रैक्ट पर रखे गए 6213 स्वास्थ्य कर्मियों की मध्य प्रदेश सरकार ने छुट्टी कर दी है। काम से निकाले जाने के बाद ये स्वास्थ्य कर्मचारी पिछले दो दिनों से भोपाल के नीलम पार्क में आंदोलन कर रहे थे। पुलिस ने गुरुवार 3 दिसंबर को उस पार्क में भोपाल गैस त्रासदी पीड़ित संगठनों को प्रदर्शन करने की अनुमति दे दी। इसके बाद कोरोना योद्धाओं ने जब अपना प्रदर्शन बंद नहीं किया तो पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज कर दिया।

कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को टैग करते हुए  ट्वीट कर लिखा है -“जिन कोरोना योद्धाओं के सम्मान में प्रधानमंत्री मोदी ने कभी आसमान से फूल बरसाने के आयोजन किए, उन पर अब लाठियां बरस ही हैं। जिन कोरोना व़ॉरियर्स के सम्मान में दिए जलाने, ताली और थाली बजाने के कार्यक्रम किए गए, उन्हें अब नौकरी से निकाला जा रहा है। कोरोना से जंग लड़ने के लिए जान जोखिम में डालने वाले योद्धाओं के साथ ऐसा बर्ताव हो रहा है बीजेपी के उस राज में जिसकी कमान मुख्यमंत्री शिवराज के हाथ में है।”

इसी ट्वीट के अगले भाग में उन्होंने लिखा -मैं इन कोरोना योद्धाओं की संपूर्ण मांगो को माने जाने की सरकार से पुरजोर मांग करता हूँ और इस बर्बरतापूर्ण लाठीचार्ज करने वाले पुलिस अधिकारियों और पुलिस कर्मियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की मांग करता हूँ।

 



Related