COVID-19: रेपिड एंटीजन से अब होंगी रोजाना पंद्रह हजार लोगों की जांच


पिछले हफ्ते तक रैपिड एंटीजन किट से हर दिन जांच अधिकतम पांच हजार जाचें की जा सकती थीं लेकिन इस दौरान भी जांच केवल तीन हजार तक ही हो रही थी। अब यह क्षमता पंद्रह हजार तक की जा रही है ताकि रोजाना बारह से तेरह हजार लोगों की जांच की जा सके।


देश गांव
सबकी बात Updated On :

भोपाल।  प्रदेश में अब कोरोना की आधी जांच आरटी-पीसीआर तकनीक से की जाएगी। स्वास्थ्य संचालनालय ने इस संबंध में सभी जिलों को आदेश जारी कर दिए हैं।

विभाग की यह कवायद जांच के नतीजों को जल्दी हासिल करने के लिए की जा रही है ताकि कोरोना संक्रमितों का इलाज जल्दी शुरु किया जा सके।

पिछले हफ्ते तक रैपिड एंटीजन किट से हर दिन जांच अधिकतम पांच हजार जाचें की जा सकती थीं लेकिन इस दौरान भी जांच केवल तीन हजार तक ही हो रही थी। अब यह क्षमता पंद्रह हजार तक की जा रही है ताकि रोजाना बारह से तेरह हजार लोगों की जांच की जा सके।



Related