BSEB Bihar Board 12th Result 2021: बिहार बोर्ड 12वीं के नतीजे जारी, ऐसे चेक करें अपना रिजल्ट


BSEB Bihar Board 12th Result 2021: बिहार बोर्ड 12वीं की परीक्षा में शामिल होने वाले छात्र बोर्ड की आधिकारिक बेवसाइट biharboardonline.bihar.gov.in, biharboardonline.com और onlinebseb.in पर अपना रिजल्ट देख सकते हैं।


देश गांव
पढ़ाई-लिखाई Updated On :
bseb-12th-results

पटना। बिहार में इंटरमीडिएट का रिजल्ट जारी हो गया है। बिहार बोर्ड 12वीं रिजल्ट 2021 शुक्रवार दोपहर 3 बजे घोषित कर दिया गया। BSEB द्वारा जारी रिजल्ट के मुताबिक तीनों संकायों में लड़कियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बाजी मारी है।

बिहार के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी के साथ बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने इंटरमीडिएट का रिजल्ट जारी किया। बिहार बोर्ड 12वीं का कुल रिजल्ट 77.97 फीसदी रहा है। इस बार आर्ट्स में 77.99 %, कॉमर्स में 91.48% और साइंस में 76.28% छात्र-छात्राओं ने पास किया है।

आर्ट्स में खगड़िया के आरलाल कॉलेज की छात्रा मधु भारती (92.60% ), कॉमर्स में औरंगाबाद के एसएन सिन्हा कॉलेज की छात्रा सुगंधा कुमारी (94.20% ) और साइंस में बिहारशरीफ के परमेश्वरी देवी गर्ल्स उच्तर माध्यमिक विद्यालय की छात्रा सोनाली कुमारी (94.20%) ने टॉप किया।

बिहार बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर स्टूडेंट्स अपना रिजल्ट देख सकते हैं। इस परीक्षा में शामिल होने वाले छात्र बोर्ड की आधिकारिक बेवसाइट biharboardonline.bihar.gov.in, biharboardonline.com और onlinebseb.in पर अपना रिजल्ट देख सकते हैं।

ऐसे चेक करें 12वीं के रिजल्ट –

  • सबसे पहले वेबसाइट biharboardonline.bihar.gov.in, biharboardonline.com और onlinebseb.in पर जाएं।
  • वेबसाइट पर लॉगइन करने के बाद रिजल्ट ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • फिर बीएसईबी कक्षा 12वीं रिजल्ट पर क्लिक करें।
  • इसके बाद यहा एक नया टैब ओपन होगा, जहां एडमिट कार्ड, रोल नंबर, सेंटर नंबर और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी भरकर सबमिट करें।
  • अब रिजल्ट स्क्रीन पर दिखाई देने लगेगा। भविष्य के लिए एक प्रिंट आउट जरूर निकाल लें।
  • रिजल्ट घोषित होते ही ज्यादा ट्रैफिक होने पर वेबसाइट कुछ देर के लिए डाउन भी हो सकती है। ऐसे में छात्र धैर्य बनाए रखें और घबराएं नहीं।

बता दें कि बिहार इंटरमीडिएट की परीक्षा में इस बार लगभग साढ़े 13 लाख छात्र-छात्राओं ने रजिस्ट्रेशन कराया था, जिसमें से कुल 7.03 लाख छात्र और 6.46 लाख छात्राएं परीक्षा में शामिल हुए थे।