रोशन हुई बीजेपी की दीपावली, 19 सीटों पर शानदार जीत


ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए यह चुनाव परिणाम बेहद राहत भरे साबित हो रहे हैं। उन्होंने फिर कांग्रेसी नेताओं को चुभनभरी सीख दी है। उल्लेखनीय है कि होली के ठीक पहले सिंधिया बीजेपी के साथ आए थे और अब दीपावली से ठीक पहले उनका वह निर्णय सही साबित भी हुआ है। 


देश गांव
बड़ी बात Updated On :

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी ने इस साल अपने अच्छे दिनों की शुरुआत होली के त्यौहार से की थी और साल का अंत दीपावली मना कर कर रही है। यह कहना गलत नहीं होगा कि इस साल दो बार शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री बने हैं।

मध्यप्रदेश में भाजपा के  19 सीटें जीत चुकी है और कांग्रेस के हाथ में केवल 9 सीटें आईं हैं।  2018 में हुए विधानसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी ने इनमें से 27 सीटों पर जीत हासिल की थी।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जहां जीत का जश्न मना रहे हैं तो वहीं प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमल नाथ हार स्वीकार कर चुके हैं और अब विपक्ष की जिम्मेदारी निभाने को तैयार हैं।

http://

वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए यह चुनाव परिणाम बेहद राहत भरे साबित हो रहे हैं। उल्लेखनीय है कि होली के ठीक पहले सिंधिया बीजेपी के साथ आए थे और अब दीपावली से ठीक पहले उनका वह निर्णय सही साबित भी हुआ है।

मौजूदा सरकार के 11 मंत्री इन चुनावों में उतरे थे इनमें से नौ जीत चुके हैं। डबरा, दिमनी और सुमावली के नतीजे बीजेपी और सिंधिया समर्थकों के लिए अच्छे नहीं आए हैं। यहां इमरती देवी, एंदल सिंह कंसाना और गिर्राज दंडोतिया हार गए हैं।

 कौन किससे जीता…

  • सांवेर से तुलसीराम सिलावट कांग्रेस के प्रेमचंद गुड्डू से जीते हैं
  • ग्वालियर से प्रद्युमन सिंह तोमर कांग्रेस के सुनील शर्मा से चुनाव जीत चुके हैं।
  • सागर के सुरखी सीट पर गोविंद सिंह राजपूत कांग्रेस प्रत्याशी पारूल साहू से जीत चुके हैं।
  • बमोरी से महेंद्र सिंह सिसोदिया कांग्रेस के कन्हैयालाल से चुनाव जीत चुके हैं।
  • सुवासरा से बीजेपी के हरदीप सिंह डंग कांग्रेस के राकेश पाटीदार से करीब तीस हज़ार वोट से जीत चुके हैं।
  • अनूपपुर से बीजेपी के बिसाहूलाल सिंह कांग्रेस के विश्वनाथ सिंह कुंजाम से चुनाव जीत चुके हैं।
  • सांची से प्रभु राम चौधरी कांग्रेस के मदन लाल चौधरी से जीत चुके हैं। उनकी जीत का अंतर सबसे बड़ा है।
  • मांधाता से बीजेपी के नारायण सिंह पटेल जीत चुके हैं।
  • बदनावर से राजवर्धन सिंह दत्तीगांव कांग्रेस के कमल पटेल से बड़े अंतर से जीत चुके हैं।
  • मुंगावली से बृजेन्द्र सिंह यादव कांग्रेस के कन्हाई राम लोधी से चुनाव जीत गए हैं।
  • मेहगांव से बीजेपी ओपीएस भदोरिया कांग्रेस के हेमंत कटारे से जीत चुके हैं।
  • नेपानगर से बीजेपी की सुमित्रा कास्डेकर करीब 26 हज़ार वोट से जीत चुकी हैं।
  • भांडेर सीट पर बीजेपी की रक्षा संतराम सिरोनिया कांग्रेस के फूल सिंह बरैया को हरा दिया है।
  • पोहरी सीट पर बीजेपी के सुरेश धाकड़ ने निकटम प्रत्याशी बीएसपी के कैलाश कुशवाहा को हराया है।
  • अंबाह सीट पर बीजेपी के कमलेश जाटव ने कांग्रेस के  सत्यप्रकाश सिकरवार को हराया है।
  • अशोक नगर सीट पर भाजपा के जजपाल सिंह जज्जी ने कांग्रेस की आशा दोहरे को हराया है।
  • आगर सीट से कांग्रेस के विपिन वानखेड़े भाजपा के मनोहर उंटवाल से चुनाव जीत चुके हैं।
  • जौरा विधानसभा में बीजेपी प्रत्याशी सूबेदार सिंह जीत चुके हैं।
  • डबरा विधानसभा में मंत्री इमरती देवी अपने समधी कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे से हार गईं हैं।
  • ग्वालियर पूर्व से कांग्रेसी सतीश सिकरवार जीते हैं  बीजेपी के मुन्ना लाल गोयल को हराया है।
  • सुमावली से कांग्रेस के अजब सिंह कुशवाह ने मंत्री एंदल सिंह कुशवाहा को हराया है।
  • मुरैना में कांग्रेस के राकेश मावाई ने बीजेपी के रघुराज सिंह कंसाना को हराया है।
  • जौरा में बीजेपी के सूबेदार सिंह रजौधा ने कांग्रेस के पंकज उपाध्याय को हराया है।
  • बड़ा मलहरा सीट पर बीजेपी के प्रद्युमन सिंह लोधी ने कांग्रेस की राम सिया भारती को हराया है।
  • हाटपिपलिया सीट पर बीजेपी के मनोज चौधरी कांग्रेस के राजवीर सिंह बघेल से जीत गए हैं।
  • दिमनी विधानसभा सीट पर कांग्रेस के रविंद्र तोमर ने बीजेपी के गिर्राज सिंह दंडोतिया को हरा दिया है।
  • करेरा में कांग्रेस के प्रागी लाल जाटव ने बीजेपी के जसवंत जाटव को हरा दिया है।
  • गोहद विधानसभा सीट में कांग्रेस के मेवाराम जाटव ने बीजेपी के रणवीर जाटव को हराया है।



Related