किसान आंदोलन: राहुल-पवार सहित पांच नेता आज राष्ट्रपति से मिलेंगे, दिग्विजय ने कहा- कोई फायदा नहीं


एनसीपी प्रमुख शरद पवार , कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधीऔर सीपीएम नेता सीताराम येचुरी  इस प्रतिनिधिमंडल में शामिल होंगे।कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कहा है कि, उन्हें राष्ट्रपति से ‘कोई उम्मीद नहीं है’।


देश गांव
बड़ी बात Updated On :

नई दिल्ली। कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों की ओर से आंदोलन लगातार जारी है और। मंगलवार आठ दिसंबर को किसानों के आह्वान पर भारत बंद के बाद विपक्ष के पांच नेता आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगे।

राष्ट्रपति से मिलने वाले इस प्रतिनिधिमंडल में एनसीपी प्रमुख शरद पवार, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, सीपीएम नेता सीताराम येचुरी, सीपीआई से डी राजा और द्रमुक सांसद टीआर बालू शामिल होंगे।

कृषि कानून और किसान आंदोलन के मुद्दे पर विपक्षी नेताओं की राष्ट्रपति से आज शाम की मुलाकात पर सीपीआई नेता डी राजा ने कहा कि, पांच नेता इस मुद्दे पर राष्ट्रपति से मिलेंगे और उन्हें किसानों की दिक्कतों और मांगों से अवगत कराएंगे।

 

सीपीएम नेता सीताराम येचुरी ने कल बताया कि विपक्षी नेता बुधवार शाम को पांच बजे राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगे। कोरोना प्रोटोकॉल की वजह से सिर्फ पांच नेताओं को राष्ट्रपति से मुलाकात की इजाजत दी गई है। इससे पहले एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा था कि राष्ट्रपति से मुलाकात से पहले विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता तीनों कृषि कानूनों पर चर्चा कर सामूहिक रुख अपनाएंगे।

 

 

किन्तु इस बीच कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर कहा है कि, उन्हें राष्ट्रपति से ‘कोई उम्मीद नहीं है’। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राज्यसभा सांसद ने लिखा है- राष्ट्रपति जी से किसान विरोधी क़ानून को वापस लेने के लिए 24 राजनैतिक दलों का डेलीगेशन आज मिलने जा रहा है। मुझे महामहिम जी से कोई उम्मीद नहीं है। इन 24 राजनैतिक दलों को NDA में उन सभी दलों से भी चर्चा करना चाहिए जो किसानों के साथ हैं। नितीश जी को मोदी जी पर दबाव डालना चाहिए।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार को लेकर पार्टी ने रविवार को यह जानकारी दी थी। राकांपा के प्रवक्ता महेश तापसे ने कहा कि पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री पवार किसानों के प्रदर्शन के मद्देनजर राष्ट्रपति को देश के हालात से अवगत कराएंगे। राकांपा सूत्रों ने कहा कि पवार माकपा नेता सीताराम येचुरी, भाकपा नेता डी राजा तथा द्रमुक सांसद टीआर बालू के साथ दिल्ली जाएंगे।

 



Related