MP उपचुनाव: एग्जिट पोल में बीजेपी आगे, कांग्रेस ने फिर किया जीत का दावा


कांग्रेस छोड़ कर बीजेपी में गये ज्योतिरादित्य सिंधिया के गढ़ में मुकाबला बराबरी का नज़र आ रहा है। एग्जिट पोल के अनुसार यहां 9 सीटों में भाजपा-कांग्रेस को 4 से 5 सीटें मिलती दिख रही हैं। मालवा में भाजपा आगे दिख रही है।


देश गांव
बड़ी बात Published On :

मध्यप्रदेश उपचुनाव परिणाम आने के पहले कांग्रेस और बीजेपी द्वारा अपनी- अपनी जीते के दावों के बीच आये  एग्जिट पोल के अनुसार 28 सीटों में से सत्ताधारी बीजेपी को 14 से 16 सीटें मिलती दिख रही हैं। कांग्रेस को 10 से 13 सीटें मिल सकती हैं। 

भास्कर के एग्जिट पोल के अनुसार, चम्बल क्षेत्र में भाजपा को भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। यहां भाजपा पिछड़ती नजर आ रही है। यहां कुल 7 सीटों में कांग्रेस को 4 से 6, जबकि भाजपा को शून्य से 2 सीटें ही मिलने की संभावना है।

वहीं, कांग्रेस छोड़ कर बीजेपी में गये ज्योतिरादित्य सिंधिया के गढ़ में मुकाबला बराबरी का नज़र आ रहा है। एग्जिट पोल के अनुसार यहां 9 सीटों में भाजपा-कांग्रेस को 4 से 5 सीटें मिलती दिख रही हैं। मालवा में भाजपा आगे दिख रही है।

इस एग्जिट पोल  के अनुसार, प्रदेश सत्तारुढ़ बीजेपी का शासन बरकरार रहेगा और कांग्रेस विपक्ष में रहेगी।

भास्कर का दावा है कि, उसने प्रिंट और डिजिटल के रिपोर्टरों की मदद से मध्यप्रदेश की 28 सीटों का जायजा लिया। वोटिंग ट्रेड का एनालिसिस किया। वोट देकर निकले मतदाताओं से बात करके निष्कर्ष निकाले।

वहीं ‘इंडिया टुडे’ के एग्जिट पोल के अनुसार भी उपचुनाव परिणामों में बीजेपी का दबदबा जारी रहेगा और मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश और गुजरात में बीजेपी सत्ता पर बनी रहेगी।

इन एग्जिट पोल पर कांग्रेस ने प्रतिक्रिया दी है -एक्ज़िट पोल “बीजेपी को तिनके का सहारा” है, -कांग्रेस सभी 28 सीट जीतकर सरकार बना रही है।

वहीं, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री सज्जन सिंह वर्मा का भी बयान आया है। वर्मा ने 28 सीटों पर जीत के साथ राज्य में सरकार बनाने के दावे को दोहराया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का भी बयान आया है, शिवराज सिंह ने कहा अपनी हार के लिए कांग्रेस और कमलनाथ भूमिका बना रहे हैं।

मध्यप्रदेश विधानसभा की 28 सीटों पर उपचुनाव के तहत बीते 3 नवंबर को मतदान कराए गए थे, जिसके नतीजे आगामी 10 नवंबर को आएंगे।

 



Related