फसल में आग लगने के बाद किसान ने कीटनाशक पीकर की आत्महत्या


फसलों में आग लगने के कई मामले बीते कुछ दिनों में आए हैं। इन मामलों में कुल सौ एकड़ से अधिक फसल को नुकसान हुआ है। हटा तहसील क्षेत्र में भी कई ऐसी घटनाएं हुईं जिनमें किसानों को बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है।


देश गांव
उनकी बात Updated On :

दमोह। जिले के नोहटा थाना के चेलोद गांव में एक किसान ने कीटनाशक पीकर आत्महत्या कर ली। मृतक का नाम वेडी अहिरवार है। जिनके खेते में पिछले दिनों बिजली के तार से निकली चिंगारी से आग लग गई थी और इस आग में उनकी चार-पांच एकड़ फसल जलकर ख़ाक हो गई थी। बताया जाता है कि किसान ने इसी दुख में कीटनाशक पी लिया। जिसके बाद उन्हें अस्ताल ले जाया गया लेकिन उनकी जान नहीं बच सकी।

फसलों में आग लगने के कई मामले बीते कुछ दिनों में आए हैं। इन मामलों में कुल सौ एकड़ से अधिक फसल को नुकसान हुआ है। हटा तहसील क्षेत्र में भी कई ऐसी घटनाएं हुईं जिनमें किसानों को बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है।  इन घटनाओं को लेकर आसपास के इलाकों के किसान ख़ासे परेशान हैं।

हालांकि इन घटनाओं के पीछे तापमान बढ़ने की वजह सामने आ रही है। वहीं जिन किसानों के खेतों में आग लगी है उनके परिवारों की हालत भी ख़राब है। किसानों के मुताबिक उनके परिवार में इस साल कई कार्यक्रम थे तो कर्ज़ भी चुकाना था और इन सब के लिए एक मात्र सहारा उनकी फसल ही थी लेकिन अब फसल नहीं रही तो उनके पास करने को कुछ भी नहीं बचा है। किसानों ने इस बारे में सरकार से मदद की गुहार लगाई है।

प्रदेश में आग लगने की घटनाएं विदिशा, धार आदि जिलों में भी लगातार सुनने को मिल रहीं हैं। धार में जहां पिछले कुछ दिनों में करीब चार बार आग लग चुकी है तो वहीं विदिशा में आग ने पिछले दिनों एक किसान की पूरी फसल ही ख़ाक कर दी। यह किसान अपनी बची खुची फसल को बचाता नज़र आया लेकिन आग बढ़ती जा रही थी। इस घटना का वीडियो काफी वायरल हुआ था।



Related