दिल्ली से छतरपुर आ रही मजदूरों से भरी ओवरलोड बस जौरासी घाटी में पलटी, तीन की मौत


मंगलवार को मजदूरों से ठसाठस भरी बस दिल्ली से छतरपुर आ रही थी, जो ग्वालियर जिले में झांसी हाइवे पर जौरासी घाटी के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इस हादसे में तीन मजदूरों की मौत हो गई जबकि 15 से ज्यादा मजदूरों के घायल होने की खबर है।


देश गांव
ग्वालियर Published On :
bus-accident-gwalior

छतरपुर। कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही कई राज्यों में लॉकडाउन लगने के साथ ही उद्योग-धंधे व कामकाज ठप होने के कारण मजदूरों का वहां से पलायन शुरू हो चुका है।

मंगलवार को मजदूरों से ठसाठस भरी बस दिल्ली से छतरपुर आ रही थी, जो ग्वालियर जिले में झांसी हाइवे पर जौरासी घाटी के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इस हादसे में तीन मजदूरों की मौत हो गई जबकि 15 से ज्यादा मजदूरों के घायल होने की खबर है।

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली से छतरपुर आ रही बस मजदूरों से खचाखच भरी हुई थी और ये सभी मजदूर दिल्ली से ही बस में सवार हुए थे। बस ग्वालियर से निकलकर जैसे ही बिलौआ के पास जौरासी घाटी पर पहुंची तो सवारी अधिक भरी होने के कारण सड़क पर पलट गई।

इस हादसे में दो लोगों की मौत मौके पर ही हो गई जबकि लगभग 15 लोग घायल हो गए। घटना की जानकारी मिलते ही एसपी अमित सांघी समेत तमाम पुलिस बल मौके पर पहुंचा और घायलों को अस्पताल पहुंचाने के साथ ही शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

बस के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद अफरा-तफरी मच गई। हर तरफ बस चीख पुकार ही मची हुई थी। आसपास के गांववाले भी मदद के लिए आगे आए और उन्होंने जैसे-तैसे करके कई लोगों को खिड़कियों से बाहर निकाला। कई लोग खुद ही खिड़की से ही बाहर निकलकर सड़क पर पहुंचे।

बताया जा रहा है कि बिलौआ क्षेत्र की जौरासी घाटी पर अंधा मोड़ इस हादसे का कारण बना है। इससे पहले भी कई हादसों का सबब यह अंधा मोड़ बन चुका है। जानकारी के मुताबिक इस अंधे मोड़ पर चालक का बस पर से नियंत्रण हट गया था और बस सड़क से उतरकर पलट गई।



Related