सराफ़ा व्यापारी की दोस्तों के साथ हुई थी मारपीट और फिर मौत, पुलिसकर्मी भी हिरासत में


मामले की ख़बर मिलने के बाद से ही इसमें लेन-देन को लेकर हुए विवाद को हत्या का कारण बताया जा रहा था हालांकि फिलहाल इस बारे में कोई जानकारी नहीं आ रही है।  


देश गांव
इन्दौर Published On :

इंदौर। बीते दिनों पहले खुड़ैल थाना क्षेत्र के सनावदिया में सराफा कारोबारी के बेटे के अपहरण और हत्या के मामले में पुलिस ने शिप्रा थाने के एक कॉन्स्टेबल को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

मामले की जानकारी देते हुए एसपी महेशचन्द्र जैन ने बताया कि इस पूरे मामले में अब तक जो तथ्य सामने आए हैं, उसके मुताबिक मृतक अरविंद सोनी उसके दोस्त कृष्णा के साथ अपनी मर्ज़ी से कार में बैठकर पार्टी मनाने के लिए खुड़ैल क्षेत्र में गया था। यहां पर शराब पीने के दौरान उसका कृष्णा और अन्य साथियों से विवाद हो गया था, जिसमें कृष्णा और उसके दो साथियों ने लाठी से उसके साथ मारपीट की थी। वे सब रात वहीं रुके थे और सुबह होते ही इंदौर की ओर निकले थे लेकिन रास्ते में ही अरविंद की हालत खराब हुई और उसकी मौत हो गई तो आरोपियों ने उसे वहीं रास्ते में फेंक दिया और  वहां से निकल गए।

मामले में यह भी जानकारी सामने आई है कि क्षिप्रा थाने का एक आरक्षक जो कि कृष्णा का दोस्त था वह भी पार्टी मनाने वहां पहुंचा था । लेकिन वह रात को 10:30 बजे मौके से निकल गया था । फिलहाल इस पूरे मामले में तीन आरोपी बनाए गए हैं, जिन्होंने अरविंद की पीटकर हत्या की है । इस पूरे घटनाक्रम में आरक्षक को पुलिस ने हिरासत में लिया जिससे पूछताछ की जा रही है। पुलिस के मुताबिक यदि आरक्षक की मामले में संलिप्तता पाई जाती है तो उसे भी आरोपी बनाया जाएगा।  एसपी महेशचंद्र जैन ने साफ किया मामले से जुड़े हर तथ्य की पड़ताल बारीकी से की जा रही है।

मामले की ख़बर मिलने के बाद से ही इसमें लेन-देन को लेकर हुए विवाद को हत्या का कारण बताया जा रहा था हालांकि फिलहाल इस बारे में कोई जानकारी नहीं आ रही है।