सिवनी में आया 3.3 तीव्रता का भूकंप का झटका, घरों से निकल बाहर भागे लोग


तेज आवाज के साथ सुबह लगभग 4 बजे पहली बार धरती में कंपन महसूस हुआ। इसके बाद जब कई बार धरती हिलने का अहसास लोगों को हुआ तो लोग घरों से निकलकर बाहर सड़कों पर आ गए।


देश गांव
जबलपुर Published On :
seoni earthquake

सिवनी। सिवनी जिले में 27 अक्टूबर के तड़के तीन से चार बार लोगों को भूकंप के झटके महसूस हुए। रिक्टर स्केल पर 3.3 तीव्रता का भूकंप का झटका महसूस किया गया है। झटकों का असर ऐसा था कि गहरी नींद में सो रहे लोगों की नींद भी टूट गई।

तेज आवाज के साथ सुबह लगभग 4 बजे पहली बार धरती में कंपन महसूस हुआ। इसके बाद जब कई बार धरती हिलने का अहसास लोगों को हुआ तो लोग घरों से निकलकर बाहर सड़कों पर आ गए।

भोपाल स्थित भोपाल मौसम ने इसकी पुष्टि की है। भोपाल मौसम विभाग के विज्ञानी वेदप्रकाश सिंह ने बताया कि

सिवनी जिले के 21.92 उत्तरी अक्षांश 79.50 पूर्वी देशांतर के निकट 3.3 रिक्टर तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया है। भूकंप का केंद्र (एपी सेंटर) 15 किलोमीटर गहराई में स्थित था। हालाकि इस भूकंप से जान-माल का नुकसान होने की खबर नहीं है।

सिवनी शहर के विभिन्न क्षेत्रों में कंपन के झटके महसूस होने का सिलसिला तीन माह से चल रहा है। लोगों का कहना है कि लगातार महसूस किए जा रहे झटकों से घर व भवन को नुकसान होने की संभावना बनी हुई है।

कई लोगों का दावा है कि झटकों से घर के ऊपरी हिस्से की दीवारों में गहरी दरारें आ रही हैं। हालाकि अब तक झटकों से कोई बड़े नुकसान की बात सामने नहीं आई है।

24 अक्टूबर शनिवार को दोपहर दो बजे तेज आवाज के साथ धरती हिल गई थी। इससें कई लोग अपने घरों से बाहर आ गए थे। करीब एक घंटे बाद 3.17 बजे दोबारा कंपन ने लोगों को डरा दिया था।

इससे पहले 5 सितंबर को सुबह 11.37 फिर दोपहर करीब डेढ़ बजे दो बार भूकंप जैसे झटके महसूस किए गए थे। अगस्त माह में भी लोगों ने 4 से 5 बार कंपन महसूस किया था।

झटकों के बाद नाराज लोगों ने डूंडासिवनी थाने के सामने एकत्रित होकर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध जताया। लोगों का कहना है कि शहर में बढ़ते भूकंप के झटकों का कारण पता लगाने में प्रशासन नाकाम साबित हो रहा है।



Related