बैतूलः सगाई के बाद शादी से किया इंकार, पुलिस ने थाने में कराया विवाह


शिकायत के बाद भैंसदेही पुलिस ने किसी भी तरह की दंडात्मक कार्रवाई से बचते हुए युवक और उनके परिजनों को थाने बुलाकर समझाइश दी और उनकेबीच उपजे मनमुटाव को दूर किया। साथ ही युवक-युवती को पुन: साथ रहने की सलाह दी।


देश गांव
नर्मदापुरम Published On :
betul marriage
फोटो साभार - नईदुनिया


बैतूल। बैतूल जिले के भैंसदेही थाना क्षेत्र में आने वाले ग्राम पलासपानी की युवती से महाराष्ट्र के कोंडवर्धा ग्राम के युवक द्वारा सगाई के बाद शादी से मुकर जाने का मामला पुलिस के सामने आया।

पुलिस ने समझादारी दिखाते हुए दोनों परिवारों को समझाइश दी और युवक व युवती के बीच सुलह कराई। जब सभी राजी हुए तो गुरुवार की शाम को थाना परिसर में ही स्थित मंदिर में विवाह की रस्में पूरी की गईं और दूल्हा-दुल्हन खुशी-खुशी घर रवाना हुए।

भैंसदेही थाना प्रभारी तरन्नुम खान ने बताया कि

सरिता नामक युवती ने थाने में शिकायत की थी कि पांच मार्च को उसकी सगाई महाराष्ट्र के कोंडवर्धा ग्राम के जगदीश नाम के युवक से हुई थी। इसके बाद वह तीन महीने तक युवक के घर पारिवारिक संबंध में रही। तीन माह बाद घर लौटी तो अब युवक उससे शादी करने को तैयार नहीं है।

शिकायत के बाद भैंसदेही पुलिस ने किसी भी तरह की दंडात्मक कार्रवाई से बचते हुए युवक और उनके परिजनों को थाने बुलाकर समझाइश दी और उनकेबीच उपजे मनमुटाव को दूर किया। साथ ही युवक-युवती को पुन: साथ रहने की सलाह दी।

पुलिस ने युवक-युवती और उनके परिजनों को समझाइश देकर सहमति से थाना परिसर में बने मंदिर में विवाह संपन्न कराया।

पुलिस की मौजूदगी में दूल्हा ने दुल्हन के गले में माला डाली और सिंदूर से उसकी मांग भी भरी, जिसके बाद दोनों ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर साथ रहने पर सहमति जताई।

दोनों की राजी-खुशी को देखते हुए परिजनों ने भी मनमुटावों को भूलकर सामाजिक रीति-रिवाज से शादी करने के लिए रजामंदी दे दी है।



Related