बोरिंग के लिए खोदे गए गड्‍ढे में गिरा चार साल का बच्चा


सैतपुरा गांव में चार साल का बच्चा बोरिंग के लिए खुदे गड्‍ढे में गिर गया। बच्चे को निकालने की कोशिशें जारी हैं। बचाव कार्य में सेना की मदद ली जा रही है।


देश गांव
सागर Updated On :

निवाड़ी। जिले के सैतपुरा गांव में चार साल का बच्चा बोरिंग के लिए खुदे गड्‍ढे में गिर गया। बच्चे को निकालने की कोशिशें जारी हैं। बचाव कार्य में सेना की मदद ली जा रही है। बच्चे को ऑक्सीजन पहुंचाई जा रही है।

बता दें कि बारहो बुजुर्ग ग्राम पंचायत के सैतपुरा गांव में रहने वाले हरकिशन कुशवाहा सुबह खेत पर जाने के लिए निकले। उनके साथ बेटा प्रहलाद भी चला आया। खेत पर बीते शुक्रवार को 200 फीट गहरा बोरिंग कराया था। इसकी साइज 9 इंची थी।

पिता हरकिशन ने बताया कि वह बुधवार को केसिंग पाइप डलवाने के लिए खेत पर गए थे। हम लोग पाइप वगैरह जमाने के काम में लग गए। तभी बेटा प्रहलाद बोरिंग में गिर गया। दौड़कर देखा तो उसके रोने की आवाज ही आ रही थी।

डायल 100 को फोन लगाया। थाना प्रभारी नरेंद्र त्रिपाठी टीम के साथ पहुंचे। मामले में कलेक्टर आशीष भार्गव ने ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम को भेजा। साथ ही मौके पर पुलिस अधीक्षक वाहिनी सिंह, एएसपी प्रतिभा त्रिपाठी, एडीएम एके अहिरवार भी पहुंचे। एसडीएम तरुण जैन, तहसीलदार अनिल तलैया भी आ गए थे।

बोरबेल में ऑक्सीजन पाइप लगाया गया। बबीना केंट के लेफ्टीनेंट कर्नल केके गौतम ने टीम को बुलाया।
कलेक्टर के निर्देश पर जेसीबी और अन्य मशीनों से खुदाई शुरू करवा दी गई थी। झांसी से नाइट विजन कैमरों की टीम को बुलाया गया, जो बोरवेल में कैमरे डालकर बच्चे स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।

इधर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने बच्चे के लिए प्रार्थना की है। उन्होंने फेसबुक पेज पर बच्चे के लंबी उम्र के लिए कामना की है।