जागी सरकारी नौकरी की आस, एमपी जेल विभाग में शुरू होंगी परीक्षाएं


प्रदेश में कई सरकारी विभागों के लिए वर्षों से नियुक्तियां नहीं हुई हैं। ऐसे में यहां बेरोजगारी की दर लगातार बढ़ रही है। इसका दबाव नौजवानों पर तो है ही सरकार की आलोचना भी लगातार हो रही है। हालांकि उपचुनावों के बाद अन्य सरकारी विभागों में भी सरकार ने नौकरियां निकालने की बात कही थी। ऐसे में नौकरी चाहने वाले अब सरकार की ओर उम्मीद लगाए बैठे हैं।


देश गांव
सबकी बात Updated On :
प्रतीकात्मक चित्र- साभारः आजतक


भोपाल। प्रदेश में सरकारी नौकरी की राह देख रहे युवाओं के लिए फिर नौकरी की उम्मीद जागी है। इस बार नौकरी जेल विभाग की ओर से  है। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि प्रदेश में जेल प्रहरी के 282 पदों के लिए प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड 11 दिसंबर से 24 दिसंबर के बीच परीक्षा आयोजित करेगा। गृह मंत्री  ने जानकारी दी है कि 17 दिसंबर को परीक्षा नहीं होगी बाकी सभी दिन परीक्षाएं होंगी।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले जेल प्रहरी पद के लिए होने वाली ये परिक्षाएं स्थागित कर दी गई थी। इन परिक्षाओं को उपचुनावों से ठीक पहले स्थागित कर दिया गया था। ये परिक्षाएं बीस नवंबर 2020 से शुरु होनी थीं। जिसके लिए अभ्यार्थियों ने काफी तैयारी भी कर रखी थी। इसके बाद मप्र में एसआई पद के लिए भी भर्ती निकालने की मांग तेज हो चुकी है।

प्रदेश में कई सरकारी विभागों के लिए वर्षों से नियुक्तियां नहीं हुई हैं। ऐसे में यहां बेरोजगारी की दर लगातार बढ़ रही है। इसका दबाव नौजवानों पर तो है ही सरकार की आलोचना भी लगातार हो रही है। हालांकि उपचुनावों के बाद अन्य सरकारी विभागों में भी सरकार ने नौकरियां निकालने की बात कही थी। ऐसे में नौकरी चाहने वाले अब सरकार की ओर उम्मीद लगाए बैठे हैं। आने वाले दिनों में शिक्षा विभाग और पुलिस विभाग में नौकरियों की संभावना जताई  जा रही है।