प्रदेश में फिर बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू, सात मई की सुबह तक लॉकडाउन


प्रदेश में सबसे ज्यादा चिंताजन स्थिति इंदौर, उज्जैन, जबलपुर, ग्वालियर,  संभागों में है। इन संभागों के शहरों में संक्रमण लगातार बढ़ रहा है और स्वास्थ्य सुविधाएं बुरी तरह लड़खड़ा रहीं हैं। 


देश गांव
बड़ी बात Updated On :

इंदौर। प्रदेश में संक्रमण की मौजूदा स्थिति को देखते हुए अब लॉकडाउन की सीमा एक बार फिर बढ़ा दी गई है। अब मध्यप्रदेश में सात मई की सुबह तक लॉकडाउन रहेगा। बुधवार को प्रदेश सरकार के प्रमुख अधिकारियों और मंत्रियों के साथ हुई बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यह निर्णय़ लिया है।

इससे पहले केंद्र सरकार ने भी ज्यादा संक्रमित स्थानों पर लॉकडाउन बढ़ाने की अनुशंसा की थी। इससे पहले भोपाल सहित नौ अन्य जिलों में तीन मई तक कर्फ्यू लगाया गया था।

प्रदेश में सबसे ज्यादा चिंताजन स्थिति इंदौर, उज्जैन, जबलपुर, ग्वालियर,  संभागों में है। इन संभागों के शहरों में संक्रमण लगातार बढ़ रहा है और स्वास्थ्य सुविधाएं बुरी तरह लड़खड़ा रहीं हैं।

इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को ही कई जिला कलेक्टरों से सीधी बात की और वहां संक्रमण की स्थिति जानी। इस दौरान उन्होंने इंदौर, उज्जैन, रतमलाम, धार, निवाड़ी, टीकमगढ़, अनूपपुर आदि 18 जिलों की स्थिति जानी।

मुख्यमंत्री ने कलेक्टरों को सीधे निर्देश दिये हैं कि वे कैसे भी अपने जिलों में कोरोना को नियंत्रण करने के लिए हर जरूरी कदम उठाएं और इस दौरान सबसे ज़रूरी है कि भीड़ न लगने दी जाए। मुख्यमंत्री ने लोगों से भी अपील की कि वे अपने घरों की शादियां फिलहाल टाल दें।

वहीं इंदौर कलेक्टर ने भी बुधवार को एक नया आदेश जारी किया है। इसके तहत जिले के ग्रामीण क्षेत्रों को छूट दी गई है। अब इंदौर शहर छोड़कर सांवेर, देपालपुर, महू, हातौद में शुक्रवार और शनिवार को बाज़ार खुल सकेंगे।

हालांकि यहां दुकानें ही खुल सकेंगी सब्जी मंडी आदि नहीं लगाई जा सकेगी।  इस दौरान यहां सभी किराना दुकानें, खाद-बीज की दुकानें, कृषि उपकरण आदि की दुकनें ही खोलने की अनुमति दी गई है।



Related