आधार कार्ड व राजस्व दस्तावेज में होगा एक ही नाम तभी किसान करवा सकेगा पंजीयन


इस बार समर्थन मूल्य पर गेहूं पंजीयन की प्रक्रिया पूरी तरह होगी ऑनलाइन, बैंक खाता व मोबाइल से आधार लिंक होना जरूरी, एमपी ऑनलाइन व सुविधा केंद्र से भी किसान करवा सकेंगे पंजीयन।


देश गांव
उनकी बात Published On :
dhar rabi crops purchase

धार। समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के लिए पंजीयन की तारीख 5 फरवरी तय हो चुकी है। इस बार गेहूं खरीदी के पंजीयन से लेकर खरीदी तक की अधिकांश व्यवस्था ऑनलाइन कर दी गई है।

पंजीयन आधार कार्ड के जरिये होगा। राजस्व रिकॉर्ड में जिस नाम से जमीन दर्ज है, वहीं नाम आधार कार्ड से मिलान होना जरूरी है। तभी पंजीयन की प्रक्रिया शुरू होगी।

पंजीयन पूरा करवाने के लिए मोबाइल नंबर और बैंक खाता भी आधार लिंक होना अनिवार्य कर दिया गया है। आधार से लिंक मोबाइल नंबर पर ओटीपी यानी वन टाइम पासवर्ड या बायोमैट्रिक थंब लगाकर पंजीयन हो सकेगा।

दरअसल फर्जीवाड़ा रोकने के लिए इस तरह की व्यवस्था लागू की गई है। यह पहला मौका है जब आधार लिंक से ही पंजीयन होगा। इसके पहले आधार की अनिवार्यता नहीं रखी गई थी। इस बार इसे लागू किया गया है।

स्लॉट बुक करवाना भी अनिवार्य –

किसान पंजीयन करवाने के साथ स्लॉट भी बुक करवाएंगे। इस स्लॉट बुकिंग में किसान को यह बताया जाएगा कि उसे खरीदी के लिए किस तारीख को केंद्र पर आना है। जिस नाम से पंजीयन हुआ है और उपज लेकर दूसरा व्यक्ति खरीदी केंद्र गया है तो ट्रॉली की एंट्री नहीं हो पाएगी।

पंजीयन के वक्त ही किसान को बताना होगा कि खरीदी के वक्त कौन उपज लेकर आएगा। खरीदी केंद्र के पहुंचने पर संबंधित नॉमिनी व्यक्ति को भी बायोमैट्रिक थंब लगाना पड़ेगा। इसके बाद ही खरीदी केंद्र में प्रवेश मिल सकेगा।

यहां करवा सकते हैं पंजीयन –

  • जिले में गेहूं खरीदी के पंजीयन के लिए 89 सरकारी केंद्र बनाए जाएंगे।
  • इसके अलावा लोक सेवा केंद्र, कॉमन सर्विस सेंटर व एमपी ऑनलाइन से भी किसान पंजीयन करवा सकेंगे।
  • सरकारी केंद्रों के अलावा लोक सेवा, सीएससी या एमपी ऑनलाइन से पंजीयन करवाते है तो 50 रुपये शुल्क किसान को देना होगा।
  • इनके अलावा जनपद पंचायत व तहसील कार्यालय में बने सुविधा केंद्रों के जरिये किसान पंजीयन करवा सकेंगे।

उपार्जन समिति की बैठक –

गेहूं पंजीयन को लेकर सोमवार को जिला उपार्जन समिति की बैठक भी हुई है। जिला आपूर्ति अधिकारी एसएन मिश्र ने बताया कि पंजीयन के लिए तैयारियां करने के लिए कहा गया है।

सोसायटियों में ऑपरेटर व कम्प्यूटर के इंतजाम करवाना है। साथ ही अन्य जरूरी संसाधन वक्त पर जुटाने के लिए कहा है। सोसायटी प्रबंधक व कम्प्यूटर ऑपरेटरों की ट्रेनिंग भी 28 जनवरी से शुरू की जा रही है।



Related