डबरा की जगह दिमनी होता तो कमलनाथ की लाश जाती, मुरैना में बोले मंत्री दंडोतिया


मुरैना के दिमनी में गुरुवार को हुई एक चुनावी सभा में भाजपा प्रत्याशी और शिवराज सरकार में मंत्री गिर्राज दंडोतिया ने कांग्रेस नेता व पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को लेकर कहा कि डबरा की जगह दिमनी होता तो कमलनाथ की यहां से लाश उठकर जाती।


देश गांव
चम्बल Updated On :
girraj dandotia in rally
गिर्राज दंडोतिया दिमनी से उपचुनाव में भाजपा के प्रत्याशी हैं


मुरैना। मध्यप्रदेश के उपचुनाव में नेताओं का एक-दूसरे के लिए अमर्यादित भाषा का उपयोग थम नहीं रहा है। मुरैना के दिमनी में गुरुवार को हुई एक चुनावी सभा में भाजपा प्रत्याशी और शिवराज सरकार में मंत्री गिर्राज दंडोतिया ने कांग्रेस नेता व पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को लेकर कहा कि डबरा की जगह दिमनी होता तो कमलनाथ की यहां से लाश उठकर जाती।

दिमनी से भाजपा प्रत्याशी गिर्राज दंडोतिया ने कहा कि

डबरा में कमलनाथ ने का कह दियो, पतो है। अपनी चंबल में अपनी मां-बहन को कोई ऐसा बोल दे तो कत्ल होय जावो। ये तो बढ़िया भई कि कमलनाथ डबरा में रहे। अनुसूचित जाति की गरीब महिला हुई। माता-बहन किसी भी जाति की हो वो अपनी होती है। वो तो बढ़िया हुई डबरा में कहा, दिमनी तरफ कहा होता तो यहां से लाशें उठकर जातीं।

राज्यमंत्री दंडोतिया यहीं नहीं रुके। उन्होंने कांग्रेस के ही वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के व्यक्तिगत जीवन पर टिप्पणी करते हुए कहा कि

75 साल का बुड्ढा 45 साल की महिला को शादी करके घर ले आया। घर में बहू लाने की उम्र में सास ले आया। हमारे यहां कोई ऐसा करता तो उसे घर से ही निकाल देते।

गुरुवार को दिमनी के कमतरी में हुई इस सभा में ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मंच पर मौजूद थे। बता दें कि मुरैना के अंबाह और जौरा में कमलनाथ ने भी गुरुवार को अपने प्रत्याशियों के समर्थन में सभाएं की हैं।

वीडियो सौजन्यः आईबीसी24 यूट्यूब चैनल

दिमनी में आयोजित सभा में राज्यमंत्री गिर्राज दंडौतिया ने अपनी ठेठ भाषा में कहा कि घर से सामान लेने के लिए जाते वक्त पुलिस चेकिंग में पकड़ लेती है। सामान के पैसा चालान भरने में चलते जाते हैं। इसलिए हमने एसपी से कह दिया कि अब चेकिंग मत करना।

शिवराज सरकार में राज्यमंत्री गिर्राज दंडौतिया द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, दिग्विजय सिंह के ऊपर अभद्र व अशोभनीय टिप्पणी किए जाने के विरोध में कांग्रेस नेताओं को उग्र कर दिया है।

गुरुवार की रात साढ़े सात बजे जिला कांग्रेस अध्यक्ष दीपक शर्मा के नेतृत्व में दर्जनों कांग्रेसियों ने कलेक्टरेट पर राज्यमंत्री के खिलाफ नारेबाजी की और पुलिस व प्रशासनिक अफसरों को ज्ञापन सौंपकर राज्यमंत्री के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की।



Related