सोने के नकली बिस्किट थमाकर 14.70 लाख रुपये ठगने वाले चार ठग गिरफ्तार


सोने के नकली बिस्किट बेचने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के चार ठगों को विजयनगर थाने की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों के कब्जे से नकली सोने के 19 बिस्किट, 14 लाख 60 हजार रुपये नगद व एक कार एमएच04जेयू5666 जब्त की गई है।


देश गांव
जबलपुर Published On :
jabalpur-fake-gold-biscuit

जबलपुर। सोने के नकली बिस्किट बेचने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के चार ठगों को विजयनगर थाने की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों के कब्जे से नकली सोने के 19 बिस्किट, 14 लाख 60 हजार रुपये नगद व एक कार एमएच04जेयू5666 जब्त की गई है।

गिरफ्तार आरोपितों में जगदीश मोनानी (35 वर्ष) पिता मनसुख लाल मोनानी निवासी फ्लैट नम्बर 421, सिद्धांत विहार अपार्टमेंट देवी माता मंदिर के पीछे थाना बटवा अहमदाबाद (गुजरात), पीरजादा एम सादिक (36 वर्ष) पिता फकीर मोहम्मद निवासी टीवी स्टेशन द्वारका नगर थाना द्वारका नगर (गुजरात), जाकिर हुसैन खान (40 वर्ष) पिता मोहम्मद हुसैन खान निवासी 506 साउदा अपार्टमेंट सिवली नगर सिलफाटा थाना डाईघर जिला थाणे मुंबई, मोहसीन दस्तयाबी शेख (25 वर्ष) पिता दस्तगीर शेख निवासी साईं नगर घोडबंदर रोड कासवा डबजली थाणे वेस्ट महाराष्ट्र शामिल हैं।

सीएसपी तुषार सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि थाना विजयनगर में मुकुल पटेल (30 वर्ष) निवासी आंबेडकर कॉलोनी, शांतिनगर गोहलपुर ने 13 अप्रैल को जालसाजों के खिलाफ लिखित शिकायत की थी।

शिकायत में उन्होंने बताया था कि कुछ समय पूर्व उनके पास जगदीश मोनानी निवासी अहमदाबाद ने कॉल करके बताया कि उसका सोने का व्यापार है। उसने हाजिर भाव से कम भाव में सोना देने की बात कही।

फिर उसने 13 अप्रैल को सुबह 8 बजे उसका फोन आया जिसमें आरोपी ने उससे कहा कि वह जबलपुर में है और उसके पास एक किलो 900 ग्राम सोना है जो 14 लाख 70 हजार में दे सकता है। पीड़ित ने बताया कि अपने ससुर से 7 लाख, मामा से 3 लाख, भाई से 2 लाख रुपये उधार लेकर 14 लाख 70 हजार रुपये का इंतजाम किया था।

13 अप्रैल को सुबह 11 बजे पुनः जगदीश ने फोन किया और पैसा लेकर दीनदयाल चौक नेमा हास्पिटल के बाजू में पहुंचने को कहा, जहां एक व्यक्ति से उसने सोने के 19 बिस्किट भेजे।

सोने के बिस्किट लेकर उसने उस व्यक्ति को 14 लाख 70 हजार रुपये दे दिए। बाद में जब उसने सोने की जांच की तो वो नकली मिले। शिकायत पर धारा 420, 34 का अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में लिया गया था।

घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देश पर गठित टीम ने स्कीम नंबर 41 बसा गांव रोड के पास चारों को दबोच लिया।

उन्होंने बताया कि ठगी के 10 हजार रुपये खर्च हो गए हैं जिसके बाद शेष 14 लाख 60 हजार रुपये उनके कब्जे से जब्त कर लिए गए। आरोपियों को रिमांड पर लेने की कोशिश की जा रही है ताकि देश में हुई इस तरह की अन्य घटनाओं की पतासाजी की जा सके।

आरोपियों की गिरफ्तारी में थाना प्रभारी विजयनगर सोमा मालिक, उप निरीक्षक अभिषेक कैथवास, करण सिंह चौधरी, सहायक उप निरीक्षक बेनीराम उइके, बीएल ठाकुर, आरक्षक विनय सिंह, बलराम वरकडे, शरद सिंगौर, गरिमा पाण्डेय, संघमित्रा की भूमिका रही।



Related