करेली, नरसिंहपुर और गाडरवारा मंडी के भाव

देश गांव
नरसिंहपुर Published On :
mandi rates 10 march 2021

छह जनवरी 2020 के मंडी भाव

करेली मंडी

  • चना 3801-4969 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  700 क्विटल
  • मसूर 5000-5335 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  300 क्विटल
  • बटरी 4800-5245 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही   400 क्विटल
  • तुअर – 4500-5310 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  50 क्विटल
  • उड़द – 3400-5500 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  50 क्विटल
  • गेहूं – 1575-1629 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  250 क्विटल
  • मक्का – 1085-1192 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही
  • सोयाबीन 3701-4250 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  150 क्विटल

नरसिंहपुर मंडी

  • चना – 4000-4700 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  90क्विटल
  • मसूर – 5000-5200 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  40 क्विटल
  • उडद – 4000-5900 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  30 क्विटल
  • अरहर- 5000-5600 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  60 क्विटल
  • सोयाबीन 3800-4400 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  30 क्विटल
  • मक्का – 1200-1270 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  1700 क्विटल
  • गेहू – 1500-1560 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही   250 क्विटल

गाडरवारा मंडी

  • चना 3400-4350 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  138 क्विटल
  • गेहूँ – 1601-1760 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  397 क्विटल
  • तुअर- 4450-5688 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  1 क्विटल
  • धान (क्रान्ति ) – 1501-1873 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  2202 क्विटल
  • धान( 1121)- 1700-2678 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  आवक 763 क्विटल
  • धान(पी-1)- 2000-2925 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  1071 क्विटल
  • धान( 1509)-2185-2261 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही   10क्विटल
  • मूंग 5000-6800 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  1 क्विटल
  • मसूर – 4300-4300 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  1 क्विटल
  • सोयाबीन – 4000-4000 रुपये प्रति क्विंटल, आवक रही  1क्विटल

देशगांव के अन्य समाचार पढ़िये…

बात नहीं बनी तो मप्र के सरकारी कर्मचारी भी दिल्ली पहुंचकर आंदोलन में होंगे शामिल

हम अटल जी को इतना याद क्यों करना चाह रहे हैं?

इंदौर दौरे के दौरान मज़दूर के घर भोजन करने पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज

अच्छी ख़बरः किसानों को जल्द ही मिल सकती है उनकी दो साल से बकाया राशि

छिंदवाड़ाः किसान ने अपने कुत्ते के नाम कर दी अपनी आधी जायदाद, यह है कारण



Related