MP की बेटी अवनि की बनाई भारत जोड़ो मोबाइल लाइब्रेरी का राहुल गांधी ने किया उद्घाटन


भारत जोड़ो यात्रा में मोबाइल लाइब्रेरी चालू है, लेकिन मध्यप्रदेश की अपनी यात्रा के दौरान गुरुवार, 1 दिसंबर को राहुल गांधी ने इसका औपचारिक उद्घाटन किया।


देश गांव
उज्जैन Published On :
mobile library containor

उज्जैन/इंदौर। कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ इन दिनों मध्यप्रदेश में है और लगातार ही इसे यहां के निवासियों का भरपूर प्यार और समर्थन मिल रहा है।

भारत जोड़ो यात्रा में देश के हर प्रदेश के निवासी भारत यात्री के तौर पर शामिल हुए हैं और उनमें से ही एक हैं मध्यप्रदेश के हरदा जिले की बेटी अवनि बंसल।

ऑक्सफॉर्ड यूनिवर्सिटी से कानून की शिक्षा प्राप्त करने वाली अवनि बसंल वर्तमान में सुप्रीम कोर्ट दिल्ली में वकालत कर रही हैं और राहुल गांधी के नेतृत्व में निकल रही भारत जोड़ो यात्रा में शुरुआत से ही शामिल हैं।

उन्होंने और उनके साथ चल रहे साथी भारत यात्रियों ने मिलकर एक ट्रक कंटेनर में राजनीति, इतिहास और जाने-माने नेताओं के जीवन जैसे विषयों पर किताबों के संग्रह वाला एक चलित पुस्तकालय स्थापित किया है।

इस बारे में अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय समन्वयक (कानूनी सहायता) अवनी बंसल ने देशगांव से बातचीत में बताया कि ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान अपने खाली समय में पढ़ने की इच्छुक लोगों के लिए इस पुस्तकालय में एक हजार पुस्तकों का संग्रह किया गया है। इसका उद्घाटन 1 दिसंबर को राहुल गांधी ने किया।

उन्होंने बताया कि हालांकि यह मोबाइल लाइब्रेरी चालू है, लेकिन मध्यप्रदेश की अपनी यात्रा के दौरान गुरुवार, 1 दिसंबर को राहुल गांधी ने इसका औपचारिक उद्घाटन किया।

इसके साथ ही अवनि ने जानकारी दी कि भारत जोड़ो यात्रा के समापन के बाद कांग्रेस देश भर में ऐसे 500 ‘‘भारत जोड़ो पुस्तकालय’’ स्थापित करेगी।

इतना ही नहीं मध्यप्रदेश कांग्रेस प्रदेश कमिटी के अध्यक्ष कमलनाथ ने उन्हें प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में भारत जोड़ो लाइब्रेरी स्थापित करने के लिए जगह भी उपलब्ध करवा दी है और कहा है कि पहला भारत जोड़ो लाइब्रेरी मध्यप्रदेश कांग्रेस कार्यालय में स्थापित होगा।

mobile library

अवनि बंसल ने मोबाइल लाइब्रेरी बनाने के विचार की बाबत बताया कि इसकी स्थापना परेश नागर समेत 17 यात्रा प्रतिभागियों के एक दल द्वारा की गई है जिन्होंने इस तरह की सुविधा की जरूरत महसूस की। इसमें ऐसी किताबों का संकलन है जिसे सभी राजनीतिक कार्यकर्ताओं को ज्ञान प्राप्त करने के लिए पढ़ना चाहिए।

एक ट्रक पर बनी लाइब्रेरी में राजनीति, इतिहास, आध्यात्मिक, कथा साहित्य और महान नेताओं की जीवन कथा जैसे विषयों पर किताबें हैं। पाठकों की सुविधा के लिए किताबों की अलमारियों के पास छोटे टेबल के साथ दो सोफा सेट भी रखे गए हैं।

उन्होंने बताया कि लाइब्रेरी में सामने की दीवार पर पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की तस्वीर है और दूसरी तरफ पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तस्वीर है। लाइब्रेरी में पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के जीवन को समर्पित किताबों को प्रमुखता से जगह दी गई है।

avani bansal library

बंसल ने आरोप लगाते हुए कहा कि जिस तरह से इन दिनों व्हाट्सअप यूनिवर्सिटी और भाजपा लोगों को गुमराह कर रही है और मौजूदा व्यवस्था के तहत देश के इतिहास को बदला जा रहा है। उसके प्रति लोगों में जागरूकता लाने के लिए लोगों को किताबें पढ़ना बहुत जरूरी है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि देश के कोने-कोने में पढ़ने का संदेश फैलाने के लिए किताबें दान करने की जरूरत है।

अवनि बंसल ने इस मोबाइल लाइब्रेरी के साकार होने में भारतीय युवक कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी.वी. का शुक्रिया अदा किया क्योंकि उनके प्रयासों से ही एक ट्रक कंटेनर उन लोगों को मिल सका जिसमें मोबाइल लाइब्रेरी की स्थापना की जा सकी।