सलकनपुर धाम में देवी दर्शन के लिए व्यवस्थाओं में परिवर्तन


सभी दर्शनार्थियों के लिए मास्क अनिवार्य होगा। आने वाले दर्शनार्थियों के लिए एक ही कतार रहेगी जिसमें मंदिर परिसर में जाया जा सकेगा। सोशल डिस्टेंसिंग के लिए अंदर दर्शन करने के बाद श्रद्धालुओं को दूसरे रास्ते से मंदिर से बाहर आना होगा। मंदिर परिसर में किसी को भी रुकने की इजाजत नहीं होगी। परिक्रमा भी बंद रहेगी। साथ ही देवालय मार्ग को भी बंद रखा जाएगा।


देश गांव
नर्मदापुरम Updated On :
salkanpur devi darshan
1 कतार में होंगे दर्शन, मंदिर परिसर में रुकने, परिक्रमा की इजाजत नहीं


होशंगाबाद। सलकनपुर देवी धाम में कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस बार यहां की जा रही व्यवस्थाओं में कई परिवर्तन किए जा रहे हैं। सभी दर्शनार्थियों के लिए मास्क अनिवार्य होगा।

आने वाले दर्शनार्थियों के लिए एक ही कतार रहेगी जिसमें मंदिर परिसर में जाया जा सकेगा। सोशल डिस्टेंसिंग के लिए अंदर दर्शन करने के बाद श्रद्धालुओं को दूसरे रास्ते से मंदिर से बाहर आना होगा।

मंदिर परिसर में किसी को भी रुकने की इजाजत नहीं होगी। परिक्रमा भी बंद रहेगी। साथ ही देवालय मार्ग को भी बंद रखा जाएगा।

शुक्रवार को मंदिर समिति और प्रशासनिक अधिकारियों की एक अहम बैठक होगी जिसमें इन सभी बिंदुओं पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।

इससे पहले गुरुवार को पुलिस और सीहोर प्रशासन के अधिकारियों ने यहां पर किस तरह व्यवस्थाएं की जाना हैं, उसे देखा और समझा।

गुरुवार को सलकनपुर में सीहोर एसपी शशींद्र चौहान, एडिशनल एसपी समीर यादव, एसडीएम बुदनी शैंलेंद्र हिनौतिया, ईई पीडब्ल्यूडी सुधीर कौरव, बुदनी एसडीओपी शंकर सिंह पटेल सहित तहसीलदार, टीआई आदि मौजूद थे।

सरकार की तरफ से नवरात्र में देवी मंदिरों में श्रद्धालुों के दर्शन कर सकने वाले निर्णय के बाद से ही प्रशासन भी तैयारियों में जुट गया है।



Related