टैरो राशिफल 2021: जानिए कैसा रहेगा मिथुन राशि वालों के लिए यह नया साल

देश गांव
सितारों की बात Updated On :
gemini-update- rashifal-2021

मिथुन राशि (Gemini Rashifal) 2021: मिथुन राशि वालों के लिए इस वर्ष आर्थिक जीवन बहुत अच्छा नहीं कहा जा सकता क्योंकि मिथुन राशि वालों के बृहस्पति और शनि अष्टम भाव में युति बनाएंगे। शनि साल भर इसी भाव में विराजमान रहेंगे, जिससे आपको धन हानि होने के योग बनेंगे। प्रत्येक कार्य में देरी और विघ्न की स्थिति बनेगी, बृहस्पति और शनि के गोचर के चलते आर्थिक हानि होने की भी संभावना अधिक है। इस वर्ष राहु का गोचर वृषभ राशि में होने से आपके खर्चों में अप्रत्याशित वृद्धि होगी जिसके कारण आपको कुछ फाइनेंशियल समस्याओं से जूझना पड़ सकता है।

आइए जानते हैं कि मिथुन राशि वालों Gemini rashifal के लिए कैसा होगा 2021 – 

कैरियर (Career): कैरियर के मामले में काफी सोच समझकर कदम उठाने की आवश्यकता है, उन्नति के लिए आपको कार्यशैली में कुछ बदलाव करने होंगे। इस वर्ष छठे भाव में केतु के होने से विरोधियों द्वारा आपके रास्ते में मुश्किलें खड़ी की जा सकती हैं लेकिन वह आपको किसी भी तरीके से कोई बड़ी हानि नहीं पंहुचा सकते हैं। यह वर्ष आपको कैरियर के क्षेत्र में नई ऊचाइंयों पर लेकर जा सकता है। जो जातक इस साल सरकारी नौकरी पाने के लिए प्रयास कर रहे हैं उन्हें सफलता मिल सकती है। जो जातक स्वयं का व्यवसाय खड़ा करना चाहते हैं उनके लिए साल अच्छा रहेगा। इस साल कारोबार में कोई नया प्रस्ताव मिलने के योग भी बनेंगे।

परिवार (Family): इस वर्ष आपके घर में सुख-सुविधाओं में बढ़ोतरी होने से परिवार में भी खुशियां बरकार रहेंगी। वर्षारम्भ में कुंटुंब स्थान के स्वामी मंगल अपने ही स्थान में हैं जिससे परिवार में संपत्ति को लेकर कोई विवाद चल रहा है, तो वह शांत हो जाएगा। संतान पक्ष की ओर से भी आपको शुभ समाचार मिल सकते हैं। बड़े बुजुर्गों की सलाह व उनके आशीर्वाद से पैतृक संपत्ति से आपको लाभ मिलेगा। वैवाहिक मामलों में यह साल मिथुन राशि के लोगों के लिए कई खुशियां लेकर आ रहा है, इस साल आपके बहुत से सपने हकीकत में बदलते हुए नजर आएंगे।

शिक्षा (Education): मिथुन राशि वालों के लिए यह वर्ष शिक्षा के लिहाज से सकारात्मक परिणाम देगा। हालांकि बीच में अनेकों अवसर ऐसे भी आएँगे जब आपका अपनी शिक्षा के प्रति मन नहीं लगेगा या एकाग्रता में कमी आएगी। उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे लोगों को इस वर्ष कुछ फायदा हो सकता है। आप शिक्षा के लिए विदेश जा सकते हैं। इसके अतिरिक्त अनेक लोगों की उच्च शिक्षा की अभिलाषा भी पूरी होगी पर कुछ अड़चने भी देखने को मिलेंगी क्योंकि वर्ष की शुरूआत से ही बृहस्पति मकर राशि में होगा इसलिए उन्हें अनेक चुनौतियों का सामना भी करना पड़ेगा। यदि आप प्रतियोगिता परीक्षाओं की तयारी कर रहे हैं और उसमे सफलता प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता होगी। उच्च शिक्षा प्राप्त करने में बाधाएं उत्पन्न तो जरूर होंगी, लेकिन आपकी मेहनत का फल भी आपको जरूर मिलेगा।

आर्थिक स्थिति (Economic Condition): इस वर्ष आपका आर्थिक जीवन बहुत अच्छा नहीं कहा जा सकता क्योंकि मिथुन राशि वालों के बृहस्पति और शनि अष्टम भाव में युति बनाएंगे। शनि साल भर इसी भाव में विराजमान रहेंगे, जिससे आपको धन हानि होने के योग बनेंगे। प्रत्येक कार्य में देरी और विघ्न की स्थिति बनेगी, बृहस्पति और शनि के गोचर के चलते आर्थिक हानि होने की भी संभावना अधिक है। ऐसे में किसी भी तरह के लेन-देन को करते समय विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। यह समय आपके लिये थोड़ा संभलकर चलने का समय है। ऐसा न हो गलत संगत में पड़कर आप अपना नुक्सान कर बैठें। अनावश्यक खर्च बढ़ने से भी आपकी फाइनेंशियल कंडीशन थोड़ी कमजोर हो सकती है। इस समय जितना हो सके अनावश्यक खर्चों, अनावश्यक कर्ज़ों से बचने का प्रयास करें। साल के अंतिम महीनों में शेयर मार्किट, अकाउंट, फाइनेंस सेक्टर से जुड़े जातकों को काफी लाभ मिलेगा। आपकी इकॉनोमिकल कंडीशन इस समय काफी अच्छी होने के आसार हैं।

प्रेम-रोमांस (Love-Romance): मिथुन राशि के जातकों के लिए प्रेम के मामले में इस वर्ष अच्छे फलों की प्राप्ति होगी। जो अविवाहित प्रेमी जातक विवाह के इच्छुक हैं उनके लिए विवाह के योग बन रहे हैं। यह समय आपकी रोमांटिक लाइफ के लिए काफी अच्छा व उपलब्धियों भरा कहा जा सकता है। इस वर्ष शनि और बृहस्पति की युति आपके पार्टनर की सेहत पर प्रभाव डाल सकती है इसलिए अपने जीवन साथी या प्रेमी की सेहत का ख्याल अवश्य रखें। और आप अपने रिश्ते को इतना मजबूत बना लें कि विपरीत परिस्थितियों में भी उसमें कोई परेशानी उत्पन्न ना हो। यदि आपका जीवनसाथी कार्यरत है तो इस वर्ष में उन्हें कोई विशेष पदोन्नति प्राप्त हो सकती है। आपको सलाह दी जाती है हर मोड़ पर अपने साथी का साथ निभाते रहिये और अपने रिश्ते में पारदर्शिता बनाए रखिये।

स्वास्थ्य (Health): वर्ष की शुरुआत से ही मिथुन राशि वालों के अष्टम भाव में शनि और बृहस्पति की युति तथा आपके छठे भाव में छाया ग्रह केतु की उपस्थिति आपके स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या पैदा कर सकती हैं। त्वचा व पेट संबंधी दिक्कतों से आपको जूझना पड़ सकता है। खान-पान की आदतों में कुछ परिवर्तन करने पड़ सकते हैं। शनि का गोचर आपके अष्टम भाव में रहने से किसी बड़ी बीमारी के जन्म लेने की संभावना उत्पन्न हो सकती है। लापरवाही न बरतें, लक्षण दिखाई देते ही चिकित्सकीय परामर्श अवश्य लें। जुलाई के बाद का समय आपके स्वास्थ्य के लिए काफी अनुकूल रह सकता है और इस दौरान आप की पुरानी बीमारियों में भी राहत मिलेगी।

(जैसा कि टैरो कार्ड रीडर भूमिका कलम ने बताया)
टैरो कार्ड रीडर भूमिका कलम का फेसबुक पेज