तीन साल में खपाई डेढ़ करोड़ की ड्रग्स, मुंबई में साठ हजार महीना लेने वाला ड्राइवर हर महीने आता था इंदौर


सत्तर करोड़ के ड्रग्स तस्करी के मामले में एक और गिरफ्तारी हुई है। पुलिस ने मुंबई में रहने वाली एक महिला के ड्राइवर को इस मामले से जुड़े होने के सिलसिले में गिरफ्तार किया है।


देश गांव
इन्दौर Published On :
drugs-case

इंदौर। कुछ महीनों पहले पकड़े गए सत्तर करोड़ के ड्रग्स तस्करी के मामले में एक और गिरफ्तारी हुई है। पुलिस ने मुंबई में रहने वाली एक महिला के ड्राइवर को इस मामले से जुड़े होने के सिलसिले में गिरफ्तार किया है।

आरोपी का नाम शेख गुलाम हैदर है। पुलिस का दावा है कि है कि ड्राइवर पिछले तीन साल से ड्रग्स की तस्करी कर रहा था और और अब तक डेढ़ करोड़ से ज्यादा की ड्रग्स बाजार में खपा चुका है।

ड्रग्स के मामले में पुलिस ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी बीते सालों तक इंदौर में ड्रग्स की तस्करी करता रहा है। इस दौरान वह लगातार मुंबई से इंदौर आता था और लोगों को एमडीएमए और दूसरे खतरनाक ड्रग्स सप्लाई करता था।

यह ड्राइवर जिस महिला के यहां नौकरी करता था पुलिस उनका भी ड्रग कनेक्शन खोज रही है। हालांकि सूत्रों की मानें तो महिला की भूमिका संदिग्ध बताई जाती है। वह अपने ड्राइवर को साठ हजार रुपये महीने के वेतन पर रखे हुए थी।

पुलिस के मुताबिक यह ड्राइवर बीते 3 सालों में करीब 20 किलो से ज्यादा ड्रग्स का व्यापार कर चुका है।

इंदौर क्राइम ब्रांच ने एमडीएमए ड्रग्स पैडलर को मुम्बई से गिरफ्तार किया है। एएसपी क्राइम ब्रांच गुरुप्रसाद पाराशर ने बताया कि 70 करोड़ की एमडीएमए ड्रग्स में पूर्व में गिरफ्तार किये गए रईसउद्दीन खान व पत्रकार सईद को दोबारा से रिमांड पर लेकर पूछताछ की गई थी।

इसी पूछताछ में आरोपियों से इंदौर में एमडीएमए की सप्लाई के लिए मुंबई की एक महिला के ड्राइवर आरोपी शेख गुलाम हैदर की जानकारी मिली थी।

आरोपियों से मिली जानकारी के बाद क्राइम ब्रांच की एक टीम ने उक्त महिला को लेकर पड़ताल की तो पता चला कि वह काफी धनवान परिवार से है।

प्रारंभिक जांच में पता चला है कि एमडीएमए ड्रग्स की तस्करी उसका ड्राइवर शेख गुलाम हैदर ही करता है इसलिए टीम ने सबसे पहले गुलाम हैदर को गिरफ्तार किया है।

अभी महिला की भूमिका पूरी तरह स्पष्ट नहीं है। पूछताछ के बाद यदि साक्ष्य मिलते हैं तो पुलिस द्वारा उक्त महिला को भी आरोपी बनाया जायेगा।