कोविड हॉट स्पॉट बन चुका है इंदौर, चार हज़ार से ज़्यादा संक्रमित, 7.5% संक्रमण की दर


इंदौर में पिछले एक सप्ताह से कोरोना के पॉजिटिव मरीजों की संख्या रोज़ाना 600 से अधिक बनी हुई है और इसी का परिणाम है कि शहर में वर्तमान में 4208 मरीजों का इलाज जारी है।


देश गांव
इन्दौर Updated On :
indore-lockdown-holi

इंदौर। प्रदेश में इंदौर फिलहाल कोरोना हॉटस्पॉट बनता जा रहा है। बुधवार को यहां 638 नए संक्रमित मिले हैं। पिछले कुछ दिनों से यहां रिकवरी रेट कम होता जा रहा है। इसकी वजह लगातार बढ़ रही पॉजिटिव मरीजों की संख्या है।

बता दें कि इंदौर में पिछले एक सप्ताह से कोरोना के पॉजिटिव मरीजों की संख्या रोज़ाना 600 से अधिक बनी हुई है और इसी का परिणाम है कि शहर में वर्तमान में 4208 मरीजों का इलाज जारी है। इनमें से दो तिहाई लोगों का इलाज होम आइसोलेशन में जारी है। इंदौर में बुधवार रात को जारी किये मेडिकल बुलेटिन के अनुसार 638 नये संक्रमित सामने आए हैं वहीं दूसरी ओर दो लोगों की मौत भी कोरोना के कारण हुई है। इसके अलावा इंदौर में आज डे केयर सुविधा भी शुरू की जा चुकी है।

कोविड के नोडल अधिकारी डॉ. अमित मालाकार ने बताया कि इंदौर में संक्रमण की रफ्तार तेज होने के चलते पॉजिटिव रेट बुधवार को 13.7 प्रतिशत के करीब रहा वहीं ओवरआल पॉजीटिव रेत 7.5 प्रतिशत हो गया है जबकि फर्टालिटी रेट (डेथ रेट) 1.3 प्रतिशत है।

डॉ. मालाकार ने बताया कि वर्तमान में रिकवरी रेट थोड़ा डाउन साइड जा रहा है क्योंकि पॉजिटिविटी काफी हाई साइड पर है और वर्तमान में रिकवरी रेट 92.6 प्रतिशत है।

उन्होंने कहा अभी जनता को जागरूकता दिखाने का समय है और प्रशासन की अपेक्षा भी ये ही है। उन्होंने बताया कि प्रशासन ने डे केयर फैसिलिटी शुरू कर दी है जिससे बैड ऑक्यूपेंसी स्टेटस में सुधार होगा।

बता दें कि कोरोना के बढ़ते प्रभाव के चलते बुधवार को स्वयं प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम जिला कलेक्टर मनीष सिंह को ख़ास दिशा निर्देश दिए थे जिसके बाद कलेक्टर इंदौर ने साफ किया था मास्क को लेकर सख्ती की जाएगी और जो मास्क नहीं पहनेगा उसकी गिरफ्तारी की जाएगी। इतना ही नहीं आने वाले 2 दिनों में माइक्रो कंटेन्मेंट ज़ोन भी इंदौर में बनाए  जाएंगे।