भोपाल की होटल में गैंगरेप, JDU का जिलाध्यक्ष और BJP का कार्यालय मंत्री गिरफ़्तार


आरोपियों में एक जेडीयू का जिलाध्यक्ष और दूसरा भाजपा का जिला कार्यालय मंत्री है।


देश गांव
भोपाल Published On :
rape-charges

भोपाल। हरियाणा की एक नाबालिग से राजधानी की एक होटल में गैंगरेप करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने डिंडौरी से अरेस्ट किया है। तीनों आरोपी डिंडौरी के रहने वाले हैं। इनमें एक जेडीयू का जिलाध्यक्ष और दूसरा भाजपा का जिला कार्यालय मंत्री है। गैंगरेप की वारदात 18 अगस्त को हुई थी।

नाबालिग ने 6 लोगो के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज़ कराया था। इनमें से तीन लोग होटल में ही ठहरे थे। होटल के रिकॉर्ड से इन तीनों की पहचान देवेश अवधिया, मनीष नायक और अमित सोनी के रूप में हुई। इसके बाद पुलिस डिंडौरी रवाना हुई थी। तीनों आरोपियों को अरेस्ट कर मंगलवार रात भोपाल ले आई।

आरोपी देवेश अवधिया पेशे से वकील और जेडीयू का जिलाध्यक्ष है। वहीं मनीष नायक डिंडौरी में भाजपा का जिला कार्यालय मंत्री है। तीसरा आरेापी अमित सोनी पेट्रोल पंप संचालक है।

इधर कांग्रेस ने गैंगरेप की घटना में भाजपा नेता के शामिल होने पर कटाक्ष किया है-

गैंगरेप का यह मामला 18 अगस्त का है। हरियाणा की नाबालिग युवती अशोका गार्डन में अपनी परिचित पारुल के पास भोपाल आई थी। पारुल उसे अपनी सहेली सीमा और एक अन्य युवक सैफ के साथ लेकर अशोका गार्डन के ही एक होटल पहुंची थी। यहां नाबालिग से गैंगरेप किया गया।

नाबालिग ने इसके बाद पारुल, सीमा और सैफ समेत 6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज़ कराया था। पीड़िता ने पुलिस को बताया था कि गैंगरेप में तीन और लोग शामिल थे जो होटल में रुके हुए थे। पुलिस ने इसके बाद होटल के रजिस्टर से तीनों की डिटेल ली और तलाश करती हुई डिंडौरी पहुंची। बताया जा रहा है कि तीनों युवकों को मंगलवार सुबह पुलिस ने हिरासत में ले लिया था और तीनों को रात ही में पुलिस भोपाल ले आई थी।

 

यह ख़बर जोश-होश मीडिया वेबसाइट से ली गई है। 



Related