विधवा के साथ 5 लोगों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, आरोपियों से पूछताछ जारी

Kumar Manish
रीवा Updated On :
gangrape in pithampur

रीवा। जिले के शाहपुर थाना के खटखरी चौकी में विधवा महिला से सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। सामूहिक दुष्कर्म का आरोप पीड़िता के परिजनों द्वारा लगाया गया है। पीड़िता को इलाज के लिए संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां हालत बिगड़ने पर उसे आईसीयू वार्ड में भर्ती कराया गया है।

पीड़िता के पुत्र के बयान के आधार पर शहर के महिला थाना में अज्ञात लोगों के विरुद्ध सामूहिक दुष्कर्म सहित एसटी/एससी एक्ट का मामला दर्ज कर लिया गया है। वहीं दूसरी तरफ महिला थाना प्रभारी आराधना सिंह परिहार द्वारा कुछ संदेहियों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी गई है।

पीड़िता के पुत्र ने बताया कि गत 30 सितंबर की रात उसके गांव के समीप रहने वाले अरुण सिंह ठाकुर अपने पांच साथियों के साथ घर के समीप शराब पी रहे थे। वह मेरी मां को लेकर रात में कहीं चले गए। हम लोगों ने रात में ही उसे खोजने का प्रयास किया, लेकिन मां का कहीं पता नहीं चला। दूसरे दिन हमें उनके द्वारा बताया गया कि तुम्हारी मां संजय गांधी अस्पताल में भर्ती है। तुम रिपोर्ट मत करना। तुम्हें हम लोग पैसा भी देंगे। जब मैं अस्पताल पहुंचा तो पता चला मेरी मां के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ है, जिसकी सूचना मैंने पुलिस अधीक्षक रीवा को दी जिसके बाद रविवार की देर रात महिला थाने में अपराध पंजीबद्ध हुआ।

जीवन और मौत के बीच जूझती गैंगरेप पीड़िता के मामले को दबाने का प्रयास पुलिस व स्थानीय नेताओं द्वारा विगत 5 दिनों से किया जा रहा था। हालांकि जब उसकी स्थिति बिगड़ने लगी तो संजय गांधी अस्पताल के डॉक्टरों ने उसे आनन-फानन में आईसीयू वार्ड में न केवल भर्ती किया बल्कि इसकी सूचना अस्पताल चौकी को दे दी। पुत्र की फरियाद के बाद पुलिस अधीक्षक ने अज्ञात लोगों के विरुद्ध महिला थाने में अपराध पंजीबद्ध करा दिया।

महिला थाना प्रभारी आराधना सिंह परिहार ने बताया कि पुत्र के बयान के आधार पर अज्ञात लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया गया है। मैं स्वयं पीड़िता से बयान लेने अस्पताल पहुंची थी, लेकिन वह बोलने की स्थिति में नहीं है। लिहाजा उसके बयान नहीं हो सके हैं। साथ ही अब हम मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। हालांकि कुछ संदेहियों को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है।