कन्हैया कुमार ने राहुल गांधी को बताया निर्भीक और सच्चा नेता

देश गांव
राजनीति Published On :

नई दिल्ली। पिछले दिनों सीपीआई छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए जेएनयू के छात्र नेता रहे कन्हैया कुमार ने अपनी नई पार्टी के नेता राहुल गांधी की जबरदस्त तारीफ की है। कन्हैया ने अपने एक इंटरव्यू में राहुल गांधी को निर्भीक और सच्चा नेता बताया है।

उन्होंने कहा है कि कांग्रेस नेतृत्व की आलोचना करने के बीजेपी को फायदा होता है। कन्हैया ने यहां  कहा कि उनका दृढ़ विश्वास है कि बीजेपी को चुनावों में हराया जा सकता है और वह इसे पूरा होते देखेंगे।

कन्हैया कुमार का यह साक्षात्कार एनडीटीवी पर प्रसारित हुआ। जहां कन्हैया ने कहा- “भाजपा मुझे टुकड़े-टुकड़े गैंग कहती है। मैं बीजेपी के लिए टुकड़े-टुकड़े हूं, और बीजेपी के टुकड़े-टुकड़े करूंगा। यह पार्टी गोडसे को राष्ट्रपिता मानती है, गांधी नहीं। वे केवल बिडेन के सामने गांधी की प्रशंसा करते हैं।

कन्हैया ने कांग्रेस नेतृत्व का बचाव करते हुए कहा कि कांग्रेस नेतृत्व की आलोचना से भाजपा को मदद मिलती है… हर कोई समझता है कि जब देश की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी कांग्रेस है, तो कांग्रेस जितनी सफल होगी, भाजपा को उतनी ही बड़ी हार का सामना करना पड़ेगा।

आगे कन्हैया ने कहा कि अन्य सभी विपक्षी दल क्षेत्रीय दल हैं। राष्ट्रीय लेवल पर कांग्रेस एकमात्र विपक्षी ताकत है। इसमें हमेशा क्षमता थी। भाजपा पूरी तरह से पराजित हो सकती है। अगर मुझे नहीं लगता कि उन्हें हराया जा सकता है, तो मैंने लड़ाई छोड़ दी होती।

राहुल गांधी के सवाल पर जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष ने कहा- “राहुल गांधी के साथ बातचीत में मुझे महसूस हुआ कि वह एक दयालु नेता हैं। हमेशा मुझसे मेरी मां और मेरे पिता के स्वास्थ्य के बारे में पूछते हैं।

मैं वास्तव में उनके बारे में सराहना करता हूं। ये गुण मुझे आकर्षित करते हैं। वह ईमानदार हैं उनकी लड़ाई में ईमानदारी है। वह एक निडर नेता हैं जो चाहते हैं कि सच्चाई की जीत हो।”



Related