देश में मिले रिकॉर्ड संक्रमित, मध्यप्रदेश में सबसे ज्यादा इंदौर ही संक्रमित, गांवों में भी ठीक नहीं हालात


भोपाल में चौबीस घंटों के दौरान 1713 नए संक्रमित मिले हैं। सरकारी रिकार्ड पर यहां पांच लोगों की मौत दर्ज है लेकिन शहर में 144 लोगों का अंतिम संस्कार किया गया है।


देश गांव
बड़ी बात Updated On :

नई दिल्ली/इंदौर। देश में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं और नए रिकॉर्ड बना रहे हैं। बीते चौबीस घंटों के दौरान देश में 3.86 लाख नए मरीज़ सामने आए हैं। इस दौरान 3501 लोगों की मौत भी हुई है। यह संक्रमितों की अब तक मिली सबसे बड़ी संख्या है। इससे पहले 28 अप्रैल को 3.79 लाख नए संक्रमित मिले थे। प्रदेश में अब संक्रमण की दर 21 प्रतिशत हो चुकी है।

वहीं मध्यप्रदेश में गुरुवार को 12762 नए संक्रमित मिले हैं। इस दौरान 95 मरीजों की मौत हुई है। सबसे ज्यादा 1811 संक्रमित इंदौर में मिले हैं। यहां छह लोगों की मौत संक्रमण के चलते हुई है। इसके साथ ही मरने वालों का सरकारी आंकड़ा 1139 तक पहुंच चुका है। इंदौर में फिलहाल संक्रमण की दर 18.5 प्रतिशत है।  गुरुवार को इंदौर को 927 लोग स्वस्थ हुए हैं।

वहीं भोपाल में चौबीस घंटों के दौरान 1713 नए संक्रमित मिले हैं। सरकारी रिकॉर्ड पर यहां पांच लोगों की मौत दर्ज है, लेकिन शहर में 144 लोगों का अंतिम संस्कार किया गया है। बताया जाता है कि इनमें से बहुत से लोगों का अंतिम संस्कार कोविड प्रोटोकॉल के तहत किया गया है।

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में अब हालात बिगड़ चुके हैं। महू तहसील में गुरुवार को 282 नए संक्रमित मिले हैं। इनमें से तीन संक्रमितों की मौत भी दर्ज की गई है। यह प्रदेश की सबसे संक्रमित तहसील बन चुकी है। जहां अब तक संक्रमण से डेढ़ सौ से अधिक मौतें हो चुकी हैं।

महू तहसील में फिलहाल करीब चौदह सौ सक्रिय संक्रमित हैं। यहां मिल रहे रोज़ के आंकड़े परेशान करने वाले रहे हैं। इस छोटी सी तहसील में संक्रमितों की संख्या कई जिलों से अधिक दर्ज हो रही है।

इंदौर जिले की बात करें तो यहां 312 ग्राम पंचायतें हैं। इनमें से दो सौ में संक्रमण फैल चुका है। महू ग्रामीण में सबसे ज्यादा संक्रमण बताया जा रहा है। इसके बाद सांवेर और देपालपुर का नंबर आ रहा है।



Related