बेटी का इलाज करा कर लौट रहे परिवार की कार की ट्रक से भिड़ंत, मां-बेटी व ड्राइवर की मौत


तेज रफ्तार ट्रक की कार से आमने-सामने से टक्कर हो गई, जिसके बाद कार सड़क किनारे की रैलिंग से जा टकराई। इस सड़क हादसे में बेटी, उसकी मां और ड्राइवर ने मौके पर ही दम तोड़ दिया जबकि एक सदस्य घायल हो गया।


DeshGaon
जबलपुर Published On :
road-accident-jabalpur

मंडला/जबलपुर। मंडला जिले में अपनी डेढ़ साल की बेटी का जबलपुर से इलाज करा कर लौट रहा कार सवार एक परिवार गुरुवार रात करीब डेढ़ बजे मंडला से 20 किमी दूर नेशनल हाइवे-30 पर माधोपुर बायपास के पास हादसे का शिकार हो गया।

तेज रफ्तार ट्रक की कार से आमने-सामने से टक्कर हो गई, जिसके बाद कार सड़क किनारे की रैलिंग से जा टकराई। इस सड़क हादसे में बेटी, उसकी मां और ड्राइवर ने मौके पर ही दम तोड़ दिया जबकि एक सदस्य घायल हो गया। सभी शव कार में फंस गए, जिन्हें बड़ी मुश्किल से बाहर निकाला गया।

जानकारी के मुताबिक, मंडला के बर्रई निवासी डेढ़ साल की वेदिका को मां मधु तेकराम इलाज के लिए जबलपुर लेकर आई थीं। साथ में वेदिका के मामा प्यारेलाल धुर्वे भी थे। देर शाम को तीनों कार से घर लौट रहे।

नेशनल हाइवे 30 माधोपुर बायपास के पास रात डेढ़ बजे तेज रफ्तार से आ रही ट्रक संख्या HR63C5267 ने उनकी तेज रफ्तार कार MP51CA5423 को टक्कर मार दी, जिसके बाद कार रैलिंग से टकरा गई।

मौके पर ही वेदिका, मां मधु तेकराम (27 वर्ष) और ड्रायवर विनय परते (20 वर्ष) की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। वेदिका के मामा प्यारेलाल धुर्वे घायल हो गए, जिन्हें मंडला के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

राहगीरों ने घटना की जानकारी पुलिस चौकी अंजनिया को दी, जिसके बाज अंजनिया चौकी प्रभारी राजेंद्र सिलेवार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और बचाव कार्य आरंभ किया।

ड्राइवर का शव कार में फंस गया था, जिसे बाहर निकाला गया। शव को पोस्टमार्टम के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अंजनिया भेजा गया है जबकि घायल प्यारेलाल धुर्वे को मंडला रेफर कर दिया गया।



Related






ताज़ा खबरें