फसल खराबी का मुआवजा न मिलने पर पूर्व मंत्री प्रियव्रत सिंह की नाराज़गी


एसडीएम को पत्र लिखकर कहा है कि उनकी विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत इस साल की खरीफ़ की फसल की मुआवजा राशि में अधिकारियों द्वारा लापरवाही की गई।


देश गांव
राजगढ़ Updated On :

रायगढ़। पूर्व ऊर्जा मंत्री एवं विधायक प्रियव्रत सिंह ने किया प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का विरोध किया है। उनका यह विरोध अपने क्षेत्र के किसानों को फसल नुकसानी पर मुआवजा न दिए जाने को लेकर है। मंत्री के मुताबिक उनके इलाके में बड़े पैमाने पर फसलों का नुकसान हुआ है और इससे कई किसान प्रभावित हुए हैं लेकिन इसके बावजूद उन्हें कोई मुआवज़ा राशि नहीं दी जा रही है।

इस बारे में पूर्व मंत्री ने खिलचीपुर एसडीएम को पत्र लिखकर कहा है कि उनकी विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत इस साल की खरीफ़ की फसल की मुआवजा राशि में अधिकारियों द्वारा लापरवाही की गई। उन्होंने इस मामले में अधिकारियों की मिलीभगत की भी बात कही है।  प्रियव्रत सिंह के मुताबिक तहसील खिलचीपुर एवं जीरापुर के किसान सम्मान निधि से पूरी तरह वंचित रह गए हैं जबकि अतिवृष्टि एवं अफलन से सोयाबीन मक्का में तिल्ली जैसी फसलों को भारी नुकसान हुआ था।

राजगढ़ जिले के सारंगपुर तहसील को छोड़कर अन्य पांच तहसील खिलचीपुर, जीरापुर, ब्यावरा, राजगढ़, नरसिंहगढ़ एवं पचोर के किसानों को खरीफ की फसल के नुकसान का मुआवजा प्राप्त नहीं हुआ है। पूर्व मंत्री ने उनके इलाके के किसानों के साथ हुए इस तरह के भेदभाव की निंदा की है। उन्होंने लिखा है कि मैं प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना अंतर्गत राशि वितरण कार्यक्रम में अनुपस्थित रहकर किसानों के समर्थन में इस कार्यक्रम का विरोध करता हूं।

अन्य खबरें…

नगरीय निकाय चुनावः जिले में कैसे मुश्किल हो चुकी है कांग्रेस की राह

प्रदेश के मंडी कर्मचारियों के लिए मुसीबत बन चुका है सरकार का ये फैसला



Related