भारत जोड़ो यात्रा: 81वें दिन आरएसएस के गढ़ इंदौर में ताकत दिखाएगी कांग्रेस


इंदौर को आरएसएस का गढ़ माना जाता है यहां हिंदुत्व की विचारधारा भी काफी प्रबल मानी जाती है हालांकि यहां कांग्रेस भी खासी मजबूत रही है।


देश गांव
बड़ी बात Updated On :

इंदौर। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा रविवार सुबह महू से रवाना होकर इंदौर की ओर निकल गई। इस दौरान उनके साथ हजारों की संख्या में लोग मौजूद रहे। यहां उन्होंने रास्ते भर आम लोगों से मुलाकात की। महू के बाद राउ में यात्रा कुछ देर के लिए रुकेगी।

इंदौर में भारत जोड़ो यात्रा का यह कार्यक्रम एक तरह से कांग्रेस द्वारा शक्ति प्रदर्शन के तौर पर देखा जा रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि राहुल गांधी की इस यात्रा को व्यापक जनसमर्थन मिल रहा है और इंदौर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ काफी मजबूत माना जाता है यही वजह है कि यहां पर पिछले करीब 4 दशकों से कांग्रेस को लोकसभा में जीत नहीं मिली है। हालांकि कांग्रेस को यकीन है कि राहुल गांधी की यात्रा के बाद इंदौर के नागरिकों की राजनीतिक विचारधारा में कुछ परिवर्तन जरूर आएगा।

 

राउ के स्थानीय विधायक जीतू पटवारी ने उनके स्वागत के लिए काफी तैयारियां की हैं। यहां एबी रोड पर राहुल के लिए लाल कालीन बिछाया गया है। राहुल की इस यात्रा को लेकर नागरिक समूह किसान और विद्यार्थी काफी उत्साहित हैं वे यहां उनसे मिलना चाहते हैं।

पांचवें दिन भारत जोड़ो यात्रा सुबह 6 बजे महू के दशहरा मैदान से शुरू हुई। राउ के AU सिनेमा के पास दोपहर पड़ाव होगा। वहीं शाम 6 बजे राजवाड़ा में यात्रा संपन्न होगी। इंदौर के खालसा स्टेडियम में भारत जोड़ो कंसर्ट का आयोजन किया गया है। जिसमें लोकप्रिय भारतीय रैपर डिवाइन यानि विवियन फर्नांडिस प्रस्तुति देंगे।

इसके साथ ही यहां इस कार्यक्रम में एमसी अल्ताफ और डीजे प्रुफ भी अपनी परफार्मेंस देंगे। इस कार्यक्रम को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं की ओर से तैयारी कर ली गई है, जहां इस कार्यक्रम के आयोजन की जिम्मेदारी कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव सत्यनारायण पटेल को सौंपी गई।



Related