सागरः बीएमसी डॉक्टरों की हड़ताल के आगे झुका शासन, वापस ली कार्रवाई

Kumar Manish
सागर Updated On :
bmc hospital

सागर। बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज (बीएमसी) के तीन जूनियर डॉक्टरों के खिलाफ एमपी एमसीआई द्वारा की गई कार्रवाई गुरुवार को शासन द्वारा वापस ले ली गई। इसके साथ ही डॉक्टरों का रुका हुआ वेतन भी रिलीज कर दिया गया। शासन द्वारा कार्रवाई वापस लेने के बाद डॉक्टरों ने भी अपनी हड़ताल समाप्त कर दी। हड़ताल के दूसरे दिन कई अन्य संगठनों ने भी प्रदर्शन स्थल पर आकर अपना समर्थन दिया था।

माना जा रहा था कि दूसरे दिन भी हड़ताल जारी रह सकती है, लेकिन दोपहर 1 बजे मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ जीएस पटेल ने सभी के बीच पहुंचकर तीनों जूनियर डॉक्टरों पर की गई कार्रवाई को वापस ले लिए जाने की बात बताई। उन्होंने तीनों जूनियर डॉक्टरों की बहाली के पत्र भी दिए। वहीं डॉ पटेल ने बताया कि सर्जरी विभाग के एचओडी डॉ आरएस वर्मा का 4 महीने का वेतन भी रिलीज कर दिया है।

डॉ पटेल ने मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ सर्वेश जैन से कहा कि जो अन्य मांगें हैं। उन पर उच्च अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है और ऊपरी लेवल पर यह निर्णय होगा। जूनियर डॉक्टरों के विरुद्ध हुई कार्रवाई वापस लिए जाने और डॉक्टरों का वेतन रिलीज करने की प्रमुख मांगे पूरी होने पर डॉक्टर ने एक दूसरे को बधाई दी। बैठक कर हड़ताल को समाप्त करने की घोषणा की है।

 

दूसरे दिन भी नही मिला इलाज, मरीजों ने भी बनाई दूरी

हड़ताल दोपहर 2.30 बजे तक रही। ओपीडी समय के दौरान डॉक्टर हड़ताल पर ही थे। इस वजह से ओपीडी में चेकअप कराने पहुंचे मरीजों को इलाज नहीं मिला। हालांकि हड़ताल की जानकारी होने से अधिकांश मरीज बीएमसी नहीं आए थे, लेकिन जो मरीज पहुंचे थे। उन्हें निश्चित तौर पर इलाज नहीं मिला था। शुक्रवार से अब व्यवस्था वापस पटरी पर लौट आएगी।

 

जूनियर डॉक्टरों के खिलाफ हुई कार्रवाई वापस ले ली गई है और डॉक्टरों का वेतन भी रिलीज कर दिया गया है। शासन स्तर से डॉक्टरों की मांगे पूरी हो जाने के साथ ही डॉक्टर ने भी अपनी हड़ताल समाप्त कर दी है। सभी ड्यूटी पर लौट आए हैं। – डॉ जीएस पटेल, डीन बीएमसी

हड़ताल समाप्त कर दी गई है। प्रमुख मांगे मान ली गई है, जो अन्य मांग है। उसको लेकर भी आश्वासन मिला है। – डॉ सर्वेश जैन, अध्यक्ष चिकित्सा शिक्षा संघ