अनूपपुरः अवैध रेत उत्खनन रोकने गए डिप्टी रेंजर व टीम को बंधक बनाकर पीटा


कोयलांचल क्षेत्र भालूमाड़ा में बुधवार देर रात गोडारू नदी से अवैध तरीके से रेत उत्खनन कर रहे रेत माफिया के लोगों ने डिप्टी रेंजर दिलीप कुमार ओगरे और उनकी टीम को दो घंटे बंधक बनाए रखा और इस दौरान उनके साथ मारपीट भी की।


देश गांव
शहडोल Published On :
deputy-ranger-ogre

अनूपपुर। जिले के कोयलांचल क्षेत्र भालूमाड़ा में बुधवार देर रात गोडारू नदी से अवैध तरीके से रेत उत्खनन कर रहे रेत माफिया के लोगों ने डिप्टी रेंजर दिलीप कुमार ओगरे और उनकी टीम को दो घंटे बंधक बनाए रखा और इस दौरान उनके साथ मारपीट भी की।

जानकारी के मुताबिक, हमलावरों ने लोहे की रॉड व लाठी-डंडे रखे हुए थे। डिप्टी रेंजर ओगरे के सिर व चेहरे पर चोट आई है। पुलिस ने तीन नामजद सहित 11 लोगों पर मामला दर्ज किया है।

हालांकि, वन अमले का आरोप है कि पुलिस ने एफआईआर में उनके द्वारा बताया गया पूरा घटनाक्रम नहीं लिखा है। फिलहाल सभी आरोपी फरार हैं।

एडिशनल एसपी अभिषेक राजन ने बताया कि डिप्टी रेंजर ओगरे को मुखबिर से सूचना मिली कि नदी में रेत का अवैध उत्खनन हो रहा है। वे निजी वाहन से बीट गार्ड कुशल प्रसाद मानिकपुरी व वनरक्षक मनोज कुमार चौधरी के साथ अवैध रेत खनन स्थल के लिए चल दिए।

हरद के जंगल के अंदर चकरी मोड़ पर नदी के पास पहुंचने पर उन्हें सामने से रेत से भरा ट्रैक्टर आता दिखा। ट्रैक्टर को रोकने पर साथ में चल रहे चार पहिया वाहन से कुछ लोग उतरे और बिना कुछ बोले उन पर पर हमला कर दिया।

वे लोग डिप्टी रेंजर सहित बीट गार्ड व वनरक्षक को करीब दो घंटे तक बंधक बनाए रहे। इस बीच उनके साथी रेत से भरे ट्रैक्टर को छुड़ा कर भाग गए।



Related